Breaking News

पाकिस्तान ने माना अमेरिका अब उसका दोस्त नहीं रहा

Aziz14इस्लामाबाद। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के विदेशी मामलों के सलाहकार सताज अजीज ने गुरुवार को स्वीकार किया कि अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में पिछले तीन महीने से तनाव की स्थिति है। उन्होंने कहा कि वॉशिंगटन ने इस्लामाबाद के साथ F-16 डील में फंड नहीं देने की शर्त रख दी है जिससे तनाव को जमीन मिली है।

अजीज ने अमेरिका के साथ संबंधों में आई कड़वाहट की बात उस वक्त कबूली है जब अमेरिकी सेनेट में पाकिस्तान को F-16 फाइटर जेट पर मिलने वाली सब्सिडी को रोकने के लिए तीखी बहस चली। अब अमेरिकी सरकार ने भी पाकिस्तान को आठ F-16 फाइटर जेट सब्सिडी के साथ बेचने के मामले में अमेरिकी कांग्रेस की चिंताओं से सहमति जताई है।

अजीज ने कहा कि पाक-अमेरिकी रिश्तों में 2011 से ही ठहराव है। उन्होंने कहा कि कई दुर्भाग्यपूण वाकये हुए जिनसे रिश्तों में तनाव को बल मिला। ये वाकये हैं विकीलीक्स, रेमंड्स डेविस, एबटाबाद ऑपरेशन, दटा खेल और सलाला। अजीज ने कहा कि 2013 से दोनों देशों के रिश्तों में तनाव के बादल छंटे लेकिन पिछले तीन महीनों में स्थिति खराब हुई है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी कांग्रेस द्वारा एफ-16 फाइटर जेट में पाकिस्तान को मिलने वाली सब्सिडी रोकने से संबंधों को चोट पहुंची है।
अजीज ने कहा कि अमेरिकी कदमों के कराण हमारे संबंध खराब हुए हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की परमाणु नीति पर अमेरिकी स्टैंड को पाकिस्तान हमेशा से खारिज करता रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसी कई चीजें सामने आई हैं जिनसे कहा जा सकता है कि हमारे संबंधों में सब कुछ ठीक नहीं है।

Loading...

अजीज ने कहा, ‘हमने अमेरिकी कांग्रेस की तरफ से डॉ शकील अफरीदी को जेल से रिहा करने की हो रही लगातार मांग को भी खारिज कर दिया है। अमेरिका अधिकारी, थिंक टैंक्स और मीडिया की तरफ से हमारा खूब विरोध हो रहा है। ये हम पर बिना कोई ठोस सबूत के आरोप लगाते हैं कि पाकिस्तान आतंकी सगंठन हक्कानी नेटवर्क का समर्थन कर रहा है। हम बिना कोई सबूत के ऐक्शन नहीं ले सकते।’

हालांकि अजीज ने कहा कि हक्कानी नेटवर्क अमेरिका की मुख्य चिंताओं में से एक है। अजीज ने कहा कि अमेरिका में इंडियन लॉबी पठानकोट अटैक के बाद पाकिस्तान और अमेरिका के बीच खराब हो रहे संबंधो में आग में घी डालने का काम कर रही है। हालांकि अजीज ने कहा कि पाकिस्तान अमेरिका से एफ-16 फाइटर जेट हासिल करने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहा है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *