Sunday , November 29 2020
Breaking News

भुजबल का फर्जी मेडिकल बनाने वाले डॉक्टर के खिलाफ होगी कार्रवाई

bhuj24www.puriduniya.com मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री छगन भुजबल को यहां सेंट जॉर्ज अस्पताल में भर्ती कराने के लिए जेल विभाग की तरफ से कराई गई जांच में पता चला है कि आर्थर रोड जेल के एक डॉक्टर ने जेल में बंद एनसीपी नेता की मदद के लिए कागजों से छेड़छाड़ की थी। भुजबल को कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में न्यायिक हिरासत में रखा गया है और उनके सीने में तेज दर्द और उच्च रक्तचाप की शिकायत मिलने के बाद 18 अप्रैल को उन्हें दक्षिण मुंबई के एक अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था।
जेल महानिरीक्षक बिपिन कुमार सिंह ने कहा कि जेल के डॉक्टर राहुल घुले को आर्थर रोड जेल से शिफ्ट कर दिया गया है और उन्हें वापस स्वास्थ्य विभाग में भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि डॉक्टर के खिलाफ ‘कड़ी कार्रवाई’ की सिफारिश की गई है। उन्होंने कहा कि ‘भुजबल दांत की चिकित्सा के लिए सेंट जॉर्ज अस्पताल जाने वाले थे लेकिन घुले ने आर्थर रोड जेल के सीएमओ की जानकारी के बगैर उनकी चिकित्सा के कागजात बदल दिए और सिफारिश की कि किसी और कारण से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाए।
‘यदि कोई कैदी बीमार है तो उसे सही इलाज कराने का अधिकार है। लेकिन किसी भी कैदी को जेजे अस्पताल के सिवाय और कहीं नहीं ले जाया जाता। घुले दोषी पाए गए हैं और उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने की सिफारिश की गई है। सिंह ने कहा कि इस सबके पीछे घुले का क्या मकसद था और क्या उन्हें कोई लाभ हुआ था, यह तभी पता चलेगा जब स्वास्थ्य डिपार्टमेंट इस मामले की पूरी जांच कर लेगा।
महाराष्ट्र के गृह राज्य मंत्री (शहरी) रंजीत पाटील ने इन शिकायतों की जांच पुलिस महानिदेशक स्तर पर कराने का आदेश दिया है कि आर्थर रोड जेल में बंद कुछ कैदी पैसा देकर जेल से बाहर आ जाते हैं और उनकी खूब आवभगत की जाती है। यह आदेश घुले द्वारा 6 अप्रैल को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को लिखे इस पत्र के बाद आया है कि जेल अधिकारी बंद आर्थिक अपराधियों पर आत्याचार करते हैं और कुछ लाख रुपयों के बदले उन्हें वीआईपी सत्कार लेने के लिए विवश करते हैं।

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *