Thursday , June 24 2021
Breaking News

तजाकिस्तान में 13000 लोगों की पुलिस ने काटी दाढ़ी

khatloonखतलून। मध्य एशिया के मुस्लिम बहुल देश तजाकिस्तान ने एक अलग फैसला लिया है। अलजजीरा की खबर के अनुसार पुलिस ने करीब 13000 पुरुषों की दाढ़ी कटवा दी। पिछले साल पारंपरिक मुस्लिम परिधान बेचने वाले 160 से अधिक दुकानों को भी बंद करा दिया गया था। तजाकिस्तान सरकार कट्टरवादी ताकतों को कमजोर करने के लिए ऐसे पहल कर रही है।

दक्षिण-पश्चिम खतलून क्षेत्र के पुलिस चीफ बहरूम शरीफजोड़ा ने कहा, ‘प्रशासन ने 1700 लड़कियों को सिर पर स्कार्फ बांधने की परंपरा तोड़ने के लिए भी राजी कर लिया है।’ तजाकिस्तान सरकार का कहना है कि चरमपंथी ताकतों को खत्म करने और पड़ोसी राष्ट्र अफगानिस्तान की अतिवादी परंपराओं का प्रभाव देशवासियों पर न पड़े, इसके लिए यह पहल की जा रही है।

एक गैरआधिकारिक अनुमान के तौर पर माना जा रहा है कि तजाकिस्तान के 2000 से अधिक नागरिक सीरिया में मौजूद हैं। पिछले सप्ताह देश की संसद ने अरेबिक नामों को विदेशी करार देने और मुसलमानों में प्रचलित करीबी रिश्तेदारों के बीच होने वाली शादियों पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में वोट किया था। प्रस्तावित प्रतिबंध को राष्ट्रपति इमामाली रहमून से स्वीकृति मिलनी अभी बाकी है। रेडियो लिबर्टी की खबर के अनुसार राष्ट्रपति देश में धर्म निरपेक्षता को बढ़ावा देने के प्रयासों के लिए जाने जाते हैं। साथ ही तजाकिस्तान में स्थिरता के लिए वह पड़ोसी देशों के अतिवादी प्रभावों को खतरा मानते हैं।

Loading...

इस साल सितंबर में तजाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने देश की एकमात्र इस्लामिक पार्टी को भी बैन कर दिया। सरकार ने इस्लामिक पार्टी ऑफ तजाकिस्तान को अतिवादी तत्वों को बढ़ावा देने वाला बताया था। रहमून का मौजूदा कार्यकाल 2020 तक है और वह 1994 से ही राष्ट्रपति पद पर बने हुए हैं। दिसंबर में संसद ने राष्ट्रपति को ‘देश के नेता’ की पदवी दी। करबी दो दशक पहले रूस से आजाद होने के बाद से ही तजाकिस्तान गरीबी और अस्थिरता के संकट से जूझ रहा है। अभी भी अधिकांश ताजिक नागरिक आजीविका के लिए रूस पर निर्भर हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *