Wednesday , March 3 2021
Breaking News

दिग्विजय सिंह ने भी पकड़ी केजरीवाल की राह, नितिन गडकरी से मांगी माफी

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोर्ट में चल रहे मानहानि के मामलों को हल करने के लिए नेताओं से माफी मांगी थी. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने भी केजरीवाल का अनुसरण करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से माफी मांगी है. दिग्विजय सिंह ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी पर एक कोयला कारोबारी से करीबी संबंध के आरोप लगाए थे. उन्होंने गडकरी को नेता कम व्यापारी ज्यादा बताया था. इस पर गडकरी ने दिग्विजय सिंह पर मानहानि का मामला दायर किया था. मंगलवार को दिग्विजय सिंह ने अपने आरोपों पर नितिन गडकरी से माफी मांग ली है. कांग्रेसी नेता द्वारा माफी मांगने के बाद गडकरी ने भी सिंह के खिलाफ दायर वाद को वापस ले लिया है.

यह मामला 2012 का है. उस समय नितिन गडकरी को बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया था. नितिन गडकरी को बीजेपी का अध्यक्ष बनाए जाने पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिगविजय सिंह ने कहा था कि गडकरी नेता से ज्यादा कारोबारी हैं. दिग्विजय सिंह ने नितिन गडकरी पर एक कोयला व्यापारी से करीबी संबंध होने और लाभ लेकर व्यापारी को कोयला ब्लॉक आवंटन करने का आरोप भी लगाया था. सिंह ने अपने आरोप में कहा कि एक कारोबारी को गलत तरीके से कोयला ब्लॉक आवंटन में गडकरी ने 490 करोड़ रुपये हैं.

नितिन गडकरी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए दिग्विजय सिंह पर मानहानि का केस दायर किया था. मामला इतना तूल पकड़ा कि दिग्विजय सिंह को अदालत में पेश होकर जमानत करानी पड़ी थी. तभी से यह मामला कोर्ट में चल रहा था. मामले की सुनवाई को लेकर सिंह कई बार कोर्ट में भी पेश हुए.

अंत में दिग्विजय सिंह ने इस मामले में नितिन गडकरी से माफी मांग ली है. सिंह ने अपने बयान पर खेद प्रकट किया. सिंह के माफी मांगने के बाद नितिन गडकरी ने भी दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में एक अर्जी देकर मामले को वापस ले लिया है. इस तरह दोनों नेताओं के बीच पिछले 6 सालों से चल रहे विवाद का अंत हो गया है.

राजनीति के जानकार मानते हैं कि दिग्विजय सिंह ने इस मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का अनुसरण किया है. अरविंद केजरीवाल ने भी विभिन्न चुनावों में विभिन्न लोगों पर लगाए आरोपों पर माफी मांगकर कोर्ट में चल रहे विवादों को खत्म किया है.

Loading...