Saturday , February 27 2021
Breaking News

कस्टमर से भीख मांगने पर एक गरीब मासूम को चाय वाले पट्टी दुकानदार ने पीट-पीट कर किया लहू-लुहान

लखनऊ। यह वाक्या है लखनऊ शहर के गोमती नगर स्थिति वेव मॉल पुलिस चौकी के पास अनाधिकृत रूप से दुकान चला रहे पट्टी दुकानदारो का एक गरीब मासूम बच्चा भीख मांगने वाला उसके ग्राहक से भीख मांगने गया तो से बर्दाश्त ना हुआ और वह अपना आपा खोते हुए उसने यह भी नहीं सोचा कि वह इतने छोटे मासूम बच्चे को जो मार रहा है वह मासूम जरूर किसी मजबूरी में भीख मांग रहा होगा इस कदर उसे मारा कि वह लहूलुहान हो गया उसने यह भी ना सोचा अपने गुस्से के आगे कि उसने एक चाइल्ड वॉयलेशन को अपने हाथ में ले लिया है हद तो तब पार हो गई कि जब पास में खड़े नवयुवको ने देख कर जब उसको रोकने की कोशिश की और उसका विरोध किया तो उसने अपने सभी इन लीगल तरीके से बसे दुकानदारों को बुलाकर जो कि शराब के नशे में धुत थे उन लड़को के साथ हाथापाई शुरू कर दी पुलिस की मदद मांगने के लिए लड़के पुलिस चौकी वेव मॉल गए लेकिन चौकी बंद थी

दरोगा जी नदारद थे सिपाहियो का भी दूर-दूर तक कोई अता-पता नहीं था 100 नंबर पर डायल करने के बाद भी फोन नहीं लगा आखिर वह थक हार के लोगों के बीच बचाव से वहां से जा सके और यह धमकी सुनते हुए कि हमारे पास तो दिनभर पुलिस खाने-पीने आती है पुलिस हमारा क्या करेगी हमें तो यहां की पुलिस ने हीं बसाया है आप बुला लीजिए पुलिस को नहीं तो हम बुला लेते हैं यह धमकी देते हुए कहा जो करना है कर लेना हमारा कुछ नहीं बिगाड़ पाओगे यह सब देखने के बाद तो यही महसूस होता है कि क़ानून हो या ना हो क्या इंसानों में भी इंसानियत मर गई है एक गरीब दूसरे गरीब को मार रहा है और अपना बच्चा अगर थोड़ी सी चोट लग जाए और खून निकल आए तो पागल सा हो जाता है लेकिन जब दूसरे किसी के बच्चे को मारता है तो क्या उसके अंदर का जमीर ही मर जाता हैं!

Loading...
इस महिला और उसके पति ने दिया घटना को अंजाम

मैंने कभी सुना था कि गरीबों के दिल बड़े होते हैं लेकिन आज लगा कि जो लोग पैसे वाले और पढ़े लिखे होते है सिर्फ दिल उनके ही बड़े होते हैं क्योंकि वह दिमाग से बड़े होते हैं उनमें इंसानियत होती है इसलिए वह बड़े होते हैं क्योंकि वह कभी किसी को बिना भेदभाव के हाथ उठाकर देने की भावना रखते हैं हर किसी की मदद करने में पुण्य समझते हैं
मेरा तो यह निवेदन है इन दुकानदारों से कि यह इस बात को समझें जो भीख मांग रहा है वह बच्चा वह इंसान आपसे बदहाल और बुरी स्थिति में है आप उसे कुछ दे या ना दे लेकिन उसके मांग के खाने के अधिकार पर रोक ना लगाएं माना कि आपका कानून और लोग कुछ नहीं कर सके लेकिन ईश्वर आज भी इस धरती पर विद्यमान इसे कदापि ना भूले

Loading...