Wednesday , November 25 2020
Breaking News

NIA अधिकारी तंजील अहमद की हत्या के पीछे कौन? NIA और यूपी ATS जांच में जुटी

kidsनई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के बिजनौर में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) के अधिकारी तंजील अहमद की हत्या के पीछे कौन है? उत्तर प्रदेश और केंद्र दोनों की ही जांच एजेंसियां इस मामले की जांच में जुट गई हैं। तंजील चूंकि कई संवेदनशील मामलों की जांच से जुड़े थे, इसलिए टेरर ऐंगल से जोड़कर भी इसकी जांच की जा रही है। एनआईए ने भी इसे सुनियोजित हत्या करार दिया है।

NIA के IG संजीव कुमार सिंह ने रविवार को कहा कि तंजील की हत्या बेहद सुनियोजित तरीके से की गई है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की STF, ATS और NIA की अलग-अलग टीमें तंजील अहमद हत्याकांड की जांच कर रही है। तंजील का पार्थिव शरीर दिल्ली लाया जा रहा है।

उन्होंने बताया, ‘तंजील अहमद हमारे एक बहादुर अधिकारी थे। एक पारिवारिक समारोह से लौटते वक्त उन पर सुनियोजित साजिश के तहत हमला किया गया। उनकी पत्नी इस हमले में गंभीर रूप से जख्मी हो गई हैं।’

मुरादाबाद रेंज के DIG ओंकार सिंह ने बताया कि हमलावर मोटरसाइकल पर थे और तंजील की हत्या में संभवतः ऑटोमैटिक हथियारों का इस्तेमाल किया गया है। बताया जा रहा है तंजील को 21 गोलियां मारी गईं, हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

उधर, तंजील अहमद की पत्नी का इलाज नोएडा के फोर्टिस हॉस्पिटल में किया जा रहा है। फोर्टिस ने बयान जारी कर बताया, ‘मरीज को गंभीर स्थिति में लाया गया। डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं।’

तंजील के दोस्त के हवाले से कुछ मीडिया रिपोर्टों में उनकी हत्या में आतंकी हमले का शक जताया। लेकिन NIA के IG संजीव कुमार सिंह ने इस पर कुछ कहने से इनकार कर दिया। तंजील मूलतः BSF में असिस्टेंट कमांडर थे और छह सालों से NIA में प्रतिनियुक्ति पर थे।

गौरतलब है कि तंजील अहमद की शनिवार देर रात बिजनौर में उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वह अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ शादी समारोह से लौट रहे थे। इस हमले में उनकी पत्नी फरजाना गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। उनके दो बच्चों ने सीट के नीचे छिपकर किसी तरह अपनी जान बचाई।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *