Wednesday , March 3 2021
Breaking News

जयललिता का मेन्यू आया सामने, इलाज में नहीं हुई थी कोताही

चेन्नई। तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता की मौत को लेकर आशंकाओं का दौर जारी है, लेकिन इस बीच इस मामले की जांच करे रहे अरुमुगासामी आयोग ने दिवंगत नेता की हैंड राइटिंग में भोजन मेन्यू संबंधी एक नोट जारी किया है.

यह नोट जयलिलता को अस्पताल में भर्ती कराये जाने से पहले का है. इस नोट में जयललिता ने कब क्या खाना है, उसकी एक सूची तैयार की है. बता दें कि जयललिता को 22 सितंबर 2016 की रात खराब स्वास्थ्य की वजह से अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था और पांच दिसंबर 2016 को उनका निधन हो गया था.

सबसे पहले ”इंडिया टुडे” को मिले इस नोट को जयललिता ने तबीयत खराब होने से पहले लिखा था. वह जून से अगस्त 2016 तक चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती रही थीं. इस आयोग ने आज जो दस्तावेज जारी किए हैं उनमें अस्पताल में भर्ती कराने से पहले जयललिता की देखरेख कर रहे डॉ. शिवकुमार द्वारा आयोग के समक्ष जमा किए गए डाक्यूमेंट्स भी शामिल हैं.

Loading...

अरुमुगासामी आयोग की ओर से जारी इन दस्तावेजों से संकेत मिलता है कि जयललिता के इजाज में कोई कोताही नहीं बरती गई थी. आयोग ने एक ऑडियो क्लिप भी जारी किया जिसमें जयललिता बता रही हैं कि उन्हें किस तरह से सांस लेने में दिक्कत हो रही है. यह ऑडियो 27 सितंबर 2016 को रिकॉर्ड किया गया था.

बता दें कि मौत के बाद जयललिता के इलाज पर सवाल उठने लगे थे कि उनकी देखरेख ठीक से नहीं की गई. विवाद बढ़ने के बाद तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. प्लानीस्वामी ने जयललिता की मौत की जांच सेवानिवृत्त न्यायाधीश से कराने  घोषणा की थी. कई आलोचकों ने जेल में बंद शशिकला की ओर अंगुली भी उठाई थी.

Loading...