Sunday , November 29 2020
Breaking News

जल्द चलेगी एसी लोकल, ट्रायल ट्रांसहार्बर पर

train acमुंबई। सेंट्रल रेलवे सबर्बन रूट पर जल्द ही एसी लोकल आने वाली है, जिसका ट्रायल ट्रांसहार्बर पर किया जाएगा। ट्रांसहार्बर पर ट्रायल को लेकर कई लोगों में संशय है कि एसी लोकल को ट्रांसहार्बर पर चलाने का कोई मतलब नहीं है। रेलवे के अनुसार ट्रांसहार्बर पर ट्रेनों की फ्रिक्‍वेंसी कम होने के कारण सिर्फ ट्रायल के लिए एसी लोकल चलाई जाएगी। वैसे सही रूट का चुनाव नहीं होने के कारण सेंट्रल रेलवे से चलने वाली एक एसी एक्सप्रेस भी घाटे का सौदा साबित हो रही है। मुंबई से मडगांव जाने वाली डबल डेकर से सेंट्रल रेलवे को ‘दोगुना’ घाटा हो रहा है।

कैसे आएगा पैसा: मुंबई-मडगांव-मुंबई रूट पर सप्ताह में तीन बार चलने वाली एसी डबल डेकर ट्रेन को दिसंबर, 2015 से शुरू किया गया था। इस ट्रेन में 930 सीटें होती हैं, लेकिन मुंबई से जाते वक्त और वापसी में भी आधी सीटें हीं भरती हैं। मुंबई से मडगांव के लिए औसतन 45 प्रतिशत और मडगांव से मुंबई के लिए औसतन 34 प्रतिशत सीटें ही भरती हैं। रेलवे के एक अधिकारी ने अनुसार इस ट्रेन से कम से कम 7 लाख 80 हजार रुपये यात्री किराया के तौर पर आने चाहिए, लेकिन जब पूरी क्षमता से ही ट्रेन नहीं चल रही है, तो घाटा होना लाजमी है।

बदलाव की जरूरत: इस ट्रेन की टाइमिंग को लेकर कई लोगों को परेशानी है। यात्रियों का कहना है कि मडगांव के लिए दर्जन भर ट्रेनें चलती हैं। इनमें से अधिकतर दादर, ठाणे और कल्याण के रूट को कवर करती है। लेकिन एसी डबल डेकर ट्रेन सुबह 5 बजे एलटीटी से निकलती है और यह टाइमिंग यात्रियों के लिए परेशानी पैदा करती है। इस ट्रेन को दादर से चलाने पर विचार किया जाए, तो फायदा हो सकता है।

Loading...

तैयार है पहली एसी लोकल: जहां एसी डबल डेकर सेंट्रल रेलवे की परेशानियां बढ़ा रही हैं, वहीं दूसरी और मुंबई की पहली एसी लोकल इंडिग्रेल कोच फैक्‍ट्री (आईसीएफ) से निकलने के लिए तैयार है। गुरुवार को इस ट्रेन को आईसीएफ में सजाया गया था। मुंबई पहुंचने के बाद इस ट्रेन का ट्रायल होना है। ट्रायल के बाद इस मुख्य बेड़े में शामिल किया जाएगा। इस ट्रेन को पहले वेस्टर्न रेलवे पर चलाया जाना था लेकिन मेंटनेन्‍स स्टाफ के उपलब्धता के आधार पर इसे सेंट्रल रेलवे को दे दिया गया है। सूत्रों के अनुसार भेल रैक होने के कारण इस ट्रेन में मेंटनेन्‍स की दिक्कतें आ सकती हैं ऐसे में वेस्टर्न रेलवे नहीं चाहती है कि अपने बेड़े में अलग-अलग तरह की ट्रेनों को शामिल कर और मुसीबतों का सामना करें।

किन रूटों पर चलती हैं डबल डेकर
-लखनऊ-आनंद विहार
-मुंबई सेंट्रल-अहमदाबाद
-जयपुर-दिल्ली सराय रोहिल्ला
-गुंटुर-कचेगुड़ा
-तिरुपति-कचेगुड़ा
-चेन्‍नै-बेंगलुरु

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *