Thursday , November 26 2020
Breaking News

टी-20 वर्ल्ड कप : इंग्लैंड ने रोमांचक मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 2 विकेट से हराया

joe-rootमुंबई। जो रूट के 44 गेंद में 83 रन की मदद से इंग्लैंड ने शुक्रवार को टी20 विश्व कप क्रिकेट के मैच में दक्षिण अफ्रीका से मिले 230 रन के लक्ष्य को दो विकेट रहते पार करके नए रिकॉर्ड के साथ आक्रामक बल्लेबाजी की इबारत लिखी।

रूट ने 44 गेंद में छह चौकों और चार छक्कों की मदद से 83 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका के ‘रन एवरेस्ट’ को फतह करने में सूत्रधार की भूमिका निभाई। इंग्लैंड ने जीत का लक्ष्य 19.4 ओवर में आठ विकेट खोकर हासिल कर लिया। इससे पहले क्विंटन डिकॉक, हाशिम अमला और जेपी डुमिनी के अर्द्धशतकों की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने चार विकेट पर रिकॉर्ड 229 रन बनाए थे।

इंग्लैंड की यह जीत टी20 क्रिकेट विश्व कप के इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए सबसे बड़ी और टी20 क्रिकेट की दूसरी सबसे बड़ी जीत है। इससे बड़े लक्ष्य का पीछा करने में वेस्टइंडीज टीम कामयाब रही थी, जिसने जनवरी 2015 में जोहानिसबर्ग में छह विकेट पर 236 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीका को ही हराया था।

विशाल लक्ष्य के जवाब में इंग्लैंड की शुरुआत बहुत आक्रामक रही और तीसरे ही ओवर में उसका स्कोर 48 रन था। सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय ने 16 गेंद में पांच चौकों और तीन छक्कों की मदद से 43 रन बनाकर इसकी नींव रखी। एलेक्स हेल्स ने सात गेंद में 17 और बेन स्टोक्स ने नौ गेंद में 15 रन बनाए। इसके बाद रूट ने कमान संभाली।

रूट पारी के 19वें ओवर में छक्का लगाने के प्रयास में रबाडा की गेंद पर सीमारेखा पर मिलर को कैच दे बैठे। उस समय इंग्लैंड को 10 गेंद में 11 रन की जरूरत थी। अगले ओवर की पहली गेंद पर क्रिस जोर्डन (5) और दूसरी पर डेविड विले (0) आउट हो गए, लेकिन मोईन अली ने जीत का रन बनाने की औपचारिकता पूरी की।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के लिए अमला ने 31 गेंद में 58 रन बनाए, जबकि डिकॉक ने 24 गेंद में 52 रन की पारी खेली। डुमिनी 24 गेंद में 54 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि डेविड मिलर ने 11 गेंद में 24 रन की नाबाद पारी खेली। दोनों ने 27 गेंद की अटूट साझेदारी में 60 रन बनाए।

विकेटकीपर बल्लेबाज डिकॉक ने अपनी पारी में तीन छक्के और सात चौके लगाए। अमला ने भी 31 गेंद की अपनी पारी में सात चौके और तीन छक्के जड़े। दक्षिण अफ्रीका ने सिर्फ 7.1 ओवर में 96 रन बना डाले।

Loading...

इसके बाद डुमिनी ने तीन छक्के और तीन चौके जड़े। दक्षिण अफ्रीका ने अपना सर्वोच्च और टूर्नामेंट के इतिहास में 200 से अधिक का तीसरा स्कोर बनाया। मिलर ने आखिरी गेंद पर अपनी पारी का दूसरा छक्का लगाया।

इंग्लैंड का कोई भी गेंदबाज नहीं चल सका। स्पिनर मोईन अली ने 34 रन देकर दो विकेट लिए जबकि आदिल रशीद ने 35 रन देकर एक विकेट चटकाया।

इंग्लैंड के कप्तान ईयोन मोर्गन द्वारा पहले बल्लेबाजी के लिए भेजी गई दक्षिण अफ्रीकी टीम ने शुरुआत से ही आक्रामक पारी खेली। पहले ओवर में हालांकि डेविड विले ने सिर्फ दो रन दिए, लेकिन दूसरे ओवर में रीके टोपले ने 15 रन दे डाले। विले के अगले ओवर में 16 रन बने।

दक्षिण अफ्रीका का स्कोर पांचवें ओवर के आखिर में बिना किसी नुकसान के 72 रन था। पावरप्ले के आखिरी ओवर में 11 रन बने। दक्षिण अफ्रीका ने पहले छह ओवर में बिना किसी नुकसान के 83 रन बनाए।

डिकॉक ने अपना अर्धशतक सिर्फ 21 गेंद में पूरा किया। वह मोईन अली की गेंद पर डीप मिडविकेट में कैच देकर लौटे। रन गति को रोकने के लिए लेग स्पिनर आदिल रशीद को लाया गया। एबी डिविलियर्स ने हालांकि उसे लगातार दो छक्के लगाए, लेकिन तीसरी गेंद पर वह मोर्गन को कैच दे बैठे।

दूसरे छोर पर अमला ने 25 गेंद में तीसरे छक्के के साथ अर्धशतक पूरा किया। 10 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्कोर दो विकेट पर 125 रन था। अमला को अली ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। दक्षिण अफ्रीका ने आखिरी पांच ओवरों में 63 रन और बनाए।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *