Friday , November 27 2020
Breaking News

हॉस्पिटल के टॉइलट में फंसे सीनियर सिटिजन, हार्ट अटैक से मौत

bujurgमुंबई। मुंबई के केईएम हॉस्पिटल के ओपीडी (आउटपेशंट डिपार्टमेंट) के टॉइलट में फंसने के बाद हार्ट अटैक से एक सीनियर सिटिजन की मौत हो गई। वह गलती से बाथरूम में बंद हो गए थे और ओपीडी बंद होने की वजह से किसी का ध्‍यान नहीं गया।

हादसा मंगलवार को हुआ और 72 साल के दत्‍तात्रेय कांबले का शव बुधवार सुबह बरामद किया गया। वह दो दिन पहले अपनी पत्‍नी के चेक अप के लिए कोल्‍हापुर से मुंबई आए थे। उनकी पत्‍नी किडनी की बीमारी से पीड़‍ित हैं।

दत्‍तात्रेय अपनी पत्‍नी के साथ मंगलवार शाम चार बजे हॉस्पिटल पहुंचे थे। जब वे ग्राउंड फ्लोर पर पहुंचे तो उन्‍होंने अपनी पत्‍नी से इंतजार करने को कहा और खुद चले गए। उनकी पत्‍नी को पता नहीं था कि वह बाथरूम में जा रहे हैं। करीब इसी वक्‍त फर्स्‍ट फ्लोर पर एक नर्स ने ओपीडी डिपार्टमेंट बंद होने के बाद बाथरूम को भी बंद कर दिया।

हॉस्पिटल के डीन डॉक्‍टर अविनाश सुपे ने इस घटना को दुर्भाग्‍यपूर्ण करार दिया है और कहा है कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। उन्‍होंने कहा, ‘हमारी शुरुआती जांच से पता चला है कि चार बजे ओपीडी बंद होने के बाद एक नर्स ने बाथरूम को बंद कर दिया था। चूंकि यह टॉइलट पुरुषों के लिए था, इसलिए उसने अंदर जाकर यह नहीं देखा कि कोई भीतर है या नहीं। उसने एक-दो बार आवाज लगाई लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली।’

Loading...

पोस्‍टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला है कि दत्‍तात्रेय की मौत हार्ट अटैक से हुई थी। रिपोर्ट में उनकी मौत का समय मंगलवार शाम 4-6 बजे के बीच बताया गया है। उधर, उनके परिवारवालों ने आरोप लगाया है कि बाथरूम में फंसने के बाद जो परिस्थितियां पैदा हुईं उसी की वजह से उन्‍हें अटैक आया और मदद नहीं मिलने से उनकी मौत हुई।

सूपे ने यह भी कहा कि इस बात का कोई निशान नहीं है कि दत्‍तात्रेय ने दरवाजा खोलने की कोशिश की थी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *