Friday , November 27 2020
Breaking News

डॉनल्ड ट्रंप और हिलरी क्लिंटन की निर्णायक जीत

donald-hiफ्लोरिडा। डॉनल्ड ट्रंप और हिलरी क्लिंटन ने मंगलवार को हुए निर्णायक प्राइमरी चुनावों में कई राज्यों में बड़ी जीत दर्ज करके अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव में अपनी-अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनने की अपने दावेदारी को और पुख्ता कर लिया। ट्रंप ने कम से कम तीन रिपब्लिकन प्राइमरी चुनावों में जीत दर्ज करके अपनी बढ़त बरकरार रखी। उन्होंने फ्लोरिडा में शानदार जीत दर्ज करके अपने प्रतिद्वंद्वी और राज्य से सेनेटर मार्को रुबियो को चुनावी दौड़ से बाहर होने के लिए मजबूर कर दिया।

ट्रंप ने फ्लोरिडा में जीत दर्ज करके सभी 99 डेलीगेट्स का समर्थन हासिल कर लिया। 69 वर्षीय रीयल एस्टेट दिग्गज ने फ्लोरिडा, इलेनॉय और उत्तरी कैरलाइना में शानदार जीत दर्ज की लेकिन उन्हें ओहायो में गवर्नर जॉन केसिक के गृह राज्य में उनसे शिकस्त झेलनी पड़ी। ट्रंप मिसौरी में अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी सेनेटर टेड क्रूज से मामूली बढ़त बनाए हुए हैं।

हिलरी ने ओहायो, उत्तर करलाइना और फ्लोरिडा में बर्नी सैंडर्स को हराकर अपनी बढ़त और मजबूत कर ली। 68 वर्षीय हिलरी ने फ्लोरिडा के वेस्ट पॉम बीच में अपनी जीत की एक पार्टी में कहा, ‘हमारी मुहिम के लिए यह एक और सुपर ट्यूजडे था।’ उन्होंने दावा किया कि वह ‘डेमोक्रेटिक पार्टी का उम्मीदवार बनने के बहुत निकट हैं।’

मंगलवार को प्राइमरी चुनाव के परिणामों ने ट्रंप को पार्टी उम्मीदवार बनने के अन्य दावेदारों से आगे कर दिया, लेकिन यह बढ़त यह सुनिश्चित करने के लिए काफी नहीं है कि वह पार्टी उम्मीदवार बनेंगे। डेलीगेट्स के मामले में ट्रंप 18 राज्यों में जीत के साथ अपने अन्य प्रतिद्वंद्वियों से काफी आगे हैं, लेकिन वह अभी पार्टी उम्मीदवार बनने के लिए आवश्यक 1237 डेलीगेट्स के समर्थन की संख्या से काफी पीछे हैं।

Loading...

हालांकि ट्रंप ने अपनी जीत के बाद मयामी में दिए भाषण में पार्टी की उम्मीदवारी जीतने और नवंबर को होने वाले चुनाव में डेमाक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हिलरी को हराने का भरोसा व्यक्त किया। ट्रंप ने पाम बीच पर दिए भाषण में कहा, ‘हमें अपनी पार्टी को एकजुट करना होगा। हम कुछ ऐसा होता देख रहे हैं जिसके कारण रिपब्लिकन पार्टी दुनिया भर में जानी जा रही है। लाखों लोग पार्टी में शामिल हो रहे हैं। हमारे पास शानदार मौका हैं। डेमाक्रेट शामिल हो रहे हैं। निर्दलीय भी हिस्सा बन रहे हैं।’

उन्होंने आतंकवाद, व्यापार और अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के संबंध में अपना रुख दोहराते हुए कहा, ‘लोगों में बहुत गुस्सा है। वे चाहते हैं कि देश सुचारु तरीके से संचालित हो।’ ट्रंप ने कहा कि अमेरिका व्यापार के मामले में चीन, जर्मनी, जापान, वियतनाम और भारत जैसे देशों से अब आगे नहीं है। उन्होंने कहा, ‘हम अब तक का सर्वश्रेष्ठ कारोबारी समझौता करेंगे। हमें देश में सुरक्षा मुहैया कराने की आवश्यकता है। देश फिर से जीत की स्थिति में आएगा।’ उन्होंने अपने भाषण में कहा कि ऐपल कंपनी अपने आईफोन चीन में नहीं, अमेरिका में बनाएगी। सैन्य पुनर्निर्माण का संकल्प दोहराते हुए ट्रंप ने कहा कि वह आईएसआईएस को हराएंगे और आतंकवाद के खिलाफ जीत हासिल करेंगे।

ट्रंप के मुख्य प्रतिद्वंद्वी क्रूज अभी तक खाता भी नहीं खोल पाए, हालांकि वह ट्रंप को कड़ी टक्कर दे रहे थे। ट्रंप ने चुनावी दौड़ से बाहर हुए फ्लोरिडा के सीनेटर मार्को रुबियो को भी बधाई दी और उनकी प्रशंसा की। पार्टी उम्मीदवार बनने की दौड़ में ट्रंप और रुबियो के बीच बहस के दौरान कड़वे टकराव हुए थे। कुछ घंटों पहले तक रुबियो को ‘लिटिल मार्को’ कह कर उनका मजाक उड़ाने वाले ट्रंप ने कहा, ‘उनका भविष्य उज्ज्वल है।’ यह रुबियो के लिए निराशाभरी रात रही और उन्हें अपने गृह राज्य में हार का सामना करना पड़ा जिसके बाद उन्होंने पार्टी उम्मीदवार बनने की दौड़ से अपनी दावेदारी समाप्त कर दी। ओहायो जीत से उत्साहित केसिक ने इस दौड़ में बने रहने का संकल्प लिया।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *