Thursday , December 3 2020
Breaking News

ग्राहक फंसाती थी घरवाली, पति करता छापेमारी

pd logमुंबई। यूनिट-12 क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे दंपती को अरेस्ट किया है, जो ऑनलाइन सेक्स रैकिट चलाकर लोगों को लूटने का काम करता था। दिलचस्प तो यह है कि पति खुद को सीआईडी अधिकारी बताता था, वहीं पत्नी मालदार पार्टियों को पटाने का काम करती थी। यूनिट-12 से मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी का नाम मो.फैजल (34), जबकि पत्नी का नाम नीता खोरा (32) है।

फैजल पर आरोप है कि वह फर्जी सीआईडी अधिकारी गौरव शिंदे के नाम से लूटपाट की घटना को अंजाम देता था, जबकि नीता अन्य लड़कियों की मदद से जिस्मफरोशी का धंधा चलाती थी। खबर लिखे जाने तक दोनों आरोपियों के खिलाफ वनराई पुलिस आईपीसी की धाारा 420 और 170 के तहत मामला दर्ज कर जांच करने में जुटी थी।

वेबसाइट पर दोस्ती का विज्ञापन
क्राइम ब्रांच सूत्रों के अनुसार, नीता वेबसाइट www.makemyfriend.com पर दोस्ती कर इंजॉय करने का ऑफर देती थी। जब कोई ग्राहक उस ऑफर को देखकर फंस जाता, नीता अपने साथ काम करने वाली दूसरी लड़कियों को उसके पास भेज दिया करती थीं। इस बहाने नीता ग्राहकों की औकात पता कर लेती थी। ऐसे ही एक ग्राहक को नीता ने दस मार्च को गोरेगांव स्टेशन के पास लीला होटल के पास बुलाया, जहां होंडा सीटी कार में बैठकर उसने सेक्स के लिए ऑफर किया था।

Loading...

फर्जी अधिकारी की कार्रवाई
सूत्रों के मुताबिक, नीता कार में 44 वर्षीय बिजनेसमैन ग्राहक से बातचीत करने लगी। तभी अचानक एक व्यक्ति पुलिस की वर्दी में वहां आया, जो खुद को सीआईडी अधिकारी गौरव शिवाजी शिंदे बता रहा था। शिंदे के आते ही नीता ने उससे कहा कि उसके साथ बैठा व्यक्ति सेक्स करना चाहता है। नीता की बातें सुनते ही फर्जी सीआईडी अधिकारी शिंदे ने बिजनेसमैन को कानूनी कार्रवाई का हवाला देकर पहले काफी डराया-धमकाया, ‌‌फिर उसे लेकर उसके घर की ओर निकल गया।

कैसे हुआ खुलासा
वनराई पुलिस के अनुसार, बिजनेसमैन को लेकर फर्जी सीआईडी अधिकारी शिंदे पहले अंधेरी गया और कार्रवाई नहीं करने के एवज में वहां उसने बिजनेसमैन से 1.35 लाख रुपये वसूल किए और फिर उसकी होंडा कार भी ले ली। इसके बाद बिजनेसमैन ने वनराई पुलिस में मामला दर्ज कराया, जिसकी जांच यूनिट-12 ने की और दोनों आरोपियों को मालाड से गिरफ्तार कर लिया।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *