Breaking News

किसान आत्महत्या के आंकड़ों को लेकर हंगामा

msid15मुंबई। राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे ने सोमवार को सूखे पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि राज्य में 2012 में सबसे ज्यादा आत्महत्या हुई हैं। इस पर विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटील ने पिछले 15 साल में हुई किसान आत्महत्याओं का पहाड़ा ही पढ़कर सदन में सुना दिया।

विखे पाटील ने कहा कि बीजेपी-शिवसेना सरकार की निकम्मेपन के कारण 2015 में राज्य में 3228 किसानों ने आत्महत्या की, जबकि 2012 में 1473 किसानों मे आत्महत्या की थी। उन्होंने राज्य की बीजेपी शिवसेना सरकार पर घोषणाबाज सरकार होने का आरोप लगाया।

Loading...

परिषद में खडसे की स्वीकारोक्ति
विधान परिषद में नेता विपक्ष धनंजय मुंडे और एनसीपी के सुनील तटकरे के सवाल पर मंत्री एकनाथ खडसे ने स्वीकार किया कि 3228 आत्महत्या करने वाले किसानों में से केवल 1841 किसानों को आर्थिक मदद दी जा सकी है। खडसे ने कहा कि जब तक किसान की विसरा रिपोर्ट नहीं आती तब तक उसकी आत्महत्या का कारण पता नहीं चलता इसलिए मदद देने में देर हो रही है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *