Breaking News

श्रीश्री के मंच पर गूंजा “जय हिंद” और “पाकिस्तान जिंदाबाद”

pak-art-of-livingनई दिल्ली। श्रीश्री रविशंकर के वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल में 155 देशों से हजारों आर्टिस्ट आए हैं, लेकिन प्रोग्राम को लेकर खासा जोश दिखाई दिया पाकिस्तान से आए लोगों में। प्रोग्राम वेन्यू पर मौजूद पाकिस्तानी कलाकार लोगों का गर्मजोशी से वेलकम करते हैं। पाकिस्तान से आए आर्टिस्टों के एक ग्रुप ने dainikbhaskar.com से बात की। इन लोगों ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि उनके बारे में गलत बातें फैलाई जाती हैं। जोश में आए इस ग्रुप ने ‘दिल-दिल पाकिस्तान, जान-जान हिंदुस्तान’ के नारे लगाए।
पाकिस्तान से करीब 80 लोग आर्ट ऑफ लिविंग के प्रोग्राम में शामिल होने दिल्ली आए हैं। इन लोगों ने बातचीत के दौरान कहा कि दोनों तरफ के कुछ लोगों की वजह से दोनों देशों की अवाम एक-दूसरे से मिल नहीं पा रही है। उन्होंने कहा कि कुछ कट्टरपंथी और टेरेरिस्ट नहीं चाहते कि दोनों देशों के बीच मेल-मिलाप हो भाईचारा बढ़े, इसलिए हमें उन्हें Art of living सिखाने की जरूरत है। आर्टिस्ट शाजिया खान ने कहा कि दोनों देशों की सरकारों को आपस में कोई प्रॉब्लम हो तो वे उसे अपने लेवल पर सॉल्व करें ,लेकिन लोगों को एक दूसरे से मिलने देने के लिए दोनों सरकारें बॉर्डर को खोल दें। जिया अली ने कहा कि सैकड़ों साल पहले अंग्रेजों ने हमें साजिश के तहत लड़ाया था। लेकिन हम आज भी उसी तरह लड़ रहें है। ये कब तक चलेगा। उन्होंने कहा कि आज दुनिया ग्लोबल हो रही है और हम भाई- भाई होकर एक दूसरे के पड़ोस में भी ठीक से नहीं रह सकते। शहला खान ने कहा कि हम दोनों मुल्कों के बीच दोस्ती में यकीन करते हैं। उन्होंने कहा कि हम पाकिस्तान के कट्टरपंथियों को Art of living सिखाएंगे और आप यहां हिदुस्तान में अपने कट्टरपंथियों को मुहब्बत सिखाओ।
मोदी अच्छे नेता, करते है दिल की बातें
पाकिस्तानी आर्टिस्ट जिया खान ने पीएम मोदी की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा मैंने उनकी स्पीच सुनी, मोदी एक बेहतरीन नेता हैं। वो दिल से बात करते हैं। उन्होंने अपनी स्पीच में लोगों को जोड़ने की बात कही। साजिया खान ने बताया कि मोदी के बारे में गलत बातें कही जाती हैं कि वे हिन्दूवादी हैं। सच तो यह है कि जब से वो पीएम बने है उन्होंने पाकिस्तान से दोस्ती की कई कोशिशें की हैं। पहले उन्होंने अपनी ओथ सेरेमनी में नवाज शरीफ को बुलाया और फिर खुद पाकिस्तान गए, लेकिन पठानकोट हमले ने दोनों देशों के बीच तनाव पैदा कर दिया। एक अन्य पाकिस्तानी आर्टिस्ट का कहना था- हमारे यहां हिन्दुस्तान को लेकर अब फौज के रुख में भी बदलाव आया है। लेकिन हमारे यहां कि एजेंसियां और जिहादी गुट नहीं चाहते की एकता हो। क्योंकि उनकी दुकान नफरत फैलाने से ही चल रही है। प्रोग्राम में हिस्सा लेने आए इन आर्टिस्टों ने we love india के नारे लगाते हुए पाकिस्तान और हिंदुस्तान का झंडा लहराया। प्रोग्राम में आईं साजिया और उनके साथियों ने गाना भी गाया..दिल-दिल पाकिस्तान, जान-जान हिंदुस्तान। उन्होंने कहा- हम सब एक है और मिलकर रहना चाहते हैं।
पाकिस्तान के पेशावर से आए आर्टिस्ट शहजाद मिल्लाह का कहना है कि उन्हें हिंदुस्तान में बेशुमार प्यार मिल रहा है। हम लोग जहां भी जाते हैं लोग गर्मजोशी से मिलते हैं। एक अन्य आर्टिस्ट नवी जमींदार ने कहा कि हम जब से आए हैं बहुत कम वक्त होटल में रुके हमारा ज्यादातर वक्त लोगों की बीच ही गुजरता है। पाकिस्तान से आए एक जर्नलिस्ट जिशान हैदर ने कहा वो यहां के लोगों से मिलकर काफी खुश है। जीशान का कहना था कि वे इस प्रोग्राम के बाद वो इंडिया में कई जगहों पर घूमने जाएंगे।
श्रीश्री के मंच पर गूंजा “जय हिंद” और “पाकिस्तान जिंदाबाद”
 वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल के दूसरे दिन मंच से जय हिंद और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगे। पाक से आए मदनी ट्रस्ट के संस्थापक मुफ्ती मोहम्मद सईद खान ने भारत में मिले प्यार के लिए शुक्रिया अदा किया। तब श्रीश्री रविशंकर ने कहा कि पाक भी आतंकवाद से उतना ही परेशान है, जितना भारत। इस पर खान ने नारा लगाया- “पाकिस्तान जिंदाबाद’। तब श्रीश्री ने भी “जय हिंद’ का नारा लगाया।
आज परफॉर्म करेगा 50 पाकिस्तानी डांसर्स का ग्रुप
अर्जेंटीना के 60 डांसिंग कपल ‘Argentine Tango’ डांस पेश करेंगे।300 डांसर्स असम का बिहू डांस पेश करेंगे।1000 सिंगर्स रवींद्रनाथ टैगोर के लिखे गीतों को गाएंगे।1500 आर्टिस्ट कुचीपुड़ी डांस परफॉर्म करेंगे।1000 कलाकार राजस्थानी डांस पेश करेंगे।नेपाल के 100 डांसर्स भी अपनी परफॉर्मेंस देंगे।यूएसए के 100 आर्टिस्ट हिप-हॉप डांस परफॉर्म करेंगे।पाकिस्तान के 50 डांसर्स परफॉर्मेंस देंगे।इंडोनेशिया के 100 डांसर और जापान के 132 डांसर भी अपने डांस पेश करेंगे। 300 आर्टिस्ट दुनिया के कई डांस स्टाइल को एक साथ मंच पर पेश करेंगे।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *