Breaking News

एक मंच पर मोदी-नीतीश, PM के साथ एक ही हेलिकॉप्टर में बैठे बिहार के CM

modi-nitish2पटना। नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार आज बिहार में एक मंच पर नजर आए। एक ही हेलिकॉप्टर में पटना से हाजीपुर गए। मोदी ने हाजीपुर में दीघा-सोनेपुर रेल-कम-रोड ब्रिज का इनॉगरेशन किया। जैसे ही नीतीश कुमार स्पीच देने के लिए खड़े हुए, लोगों ने ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाए। हालांकि, मोदी ने खड़े होकर लोगों से शांत रहने की अपील की।
विधानसभा चुनाव के बाद नरेंद्र मोदी पहली बार बिहार आए। इस बार नजारा कुछ बदला-बदला सा दिखा। नीतीश कुमार मोदी का स्वागत करने एयरपोर्ट पहुंचे। चुनाव के समय एक दूसरे के खिलाफ तीखी बयानबाजी करने वाले मोदी और नीतीश दोस्त की तरह मिले। हाईकोर्ट के समारोह के दौरान नीतीश ने केंद्र सरकार की तारीफ की। उन्होंने कहा, ”भारत अब ज्यादा सक्षम है। देश की आंतरिक शक्ति बढ़ी है। लोकतंत्र और अधिक मजबूत हुआ है। हाजीपुर में दोनों नेता साथ बैठे और बात की। इस दौरान दोनों कई बार ठहाका लगाते दिखे। मोदी ने भी कहा कि बिहार सरकार अच्छा काम कर रही है।
मोदी ने कहा-मैं आप लोगों के एक्साइटमेंट को महसूस कर सकता हूं
हाजीपुर में मोदी बोले- ”ब्रिज कितना अहम है ये आप लोगों के एक्साइटमेंट से पता चलता है।’यह प्रोजेक्ट तब शुरू हुआ था जब अटलजी पीएम थे और नीतीश जी रेल मिनिस्टर थे। आज ये बनकर पूरा हुआ है।विकास का नर्व सेंटर देश का पूर्वी हिस्सा है। रेल, रोड, इन्फ्रास्ट्रक्चर के मजबूत होने से विकास को गति मिलेगी। मुझे उम्मीद है कि बिहार के विकास के लिए राज्य और केंद्र सरकार साथ मिलकर काम करेंगी। पिछले 10 साल में अगर रूटीन बजट के हिस्से से ही काम किया गया होता तो 5-7 साल पहले ही ब्रिज बन गया होता। 600 करोड़ का प्रोजेक्ट देरी के चलते 3 हजार करोड़ तक पहुंच गया।
गंगा नदी पर दो रेल पुल का हुआ उद्घाटन
नरेंद्र मोदी ने रिमोट से दीघा-पहलेजा रेल सह सड़क पुल के रेल भाग का उद्‌घाटन किया। मोदी ने पाटलिपुत्र से लखनऊ के लिए नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाई। इसके बाद उन्होंने मुंगेर रेल सह सड़क पुल के रेल भाग पर मालगाड़ी के परिचालन का शुभारंभ। अंत में राजेंद्र पुल (मोकामा) के पास नए रेल पुल का शिलान्यास किया गया।
पूर्वी भारत को आगे बढ़ाए बिना नहीं हो सकता देश का विकास
नरेंद्र मोदी ने कहा, ”अगर आने वाले 25-30 साल तक टिकाऊ विकास करना है तो पूर्वी भारत का विकास करना होगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों का विकास किए बिना देश का विकास नहीं हो सकता। यह क्षेत्र जितनी तेजी से विकास करेगा भारत उतनी तेजी से आगे बढ़ेगा। पूर्वी भारत का विकास शॉटकट तरीके से नहीं हो सकता। समय की मांग है कि लोगों की आवश्यक जरूरत को पूरा करते हुए लंबे समय की व्यवस्था भी दुरुस्त की जाए। रेल और रोड विकास की नींव रखते हैं और उसे गति देते हैं। पिछली सरकार ने रेलवे पर 5 साल में जितना खर्च नहीं किया उससे 2.5 गुणा अधिक खर्च वर्तमान सरकार ने 18 माह में किया है।
बदलना होगा बिहार का भाग्य
मोदी ने कहा, ”अगर भारत का भाग्य बदलना है तो बिहार का भाग्य बदलना होगा। केंद्र और राज्य सरकार कंधे से कंधा मिलाकर इसके लिए काम करें। बिहार को दो बड़ा तोहफा मिला है। दो रेल कारखाना बिहार में लगने वाला है। इनसे 40000 करोड़ रुपए का फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट होगा।

Loading...

बिहार के गांव में पहले पहुंचाएंगे बिजली
नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार हमारी प्राथमिकता में है। आजादी के 70 साल हो गए आज भी 18000 गांव ऐसे हैं जहां बिजली नहीं पहुंची है। जो काम इतने साल में न हो सका हमने उसे 1000 दिन में पूरा करने का लक्ष्य रखा है। अभी 1000 दिन पूरा भी नहीं हुए हैं और 6000 गांव में बिजली पहुंच गई है। बिहार सरकार इस दिशा में अच्छा काम कर रही है। राज्य सरकार का इसी तरह सपोर्ट मिला तो हम सबसे पहले बिहार के सभी गांव में बिजली पहुंचा देंगे। इसके लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार को मिलकर काम करना होगा।

हाईकोर्ट के शताब्दी समारोह के समापन में पहुंचे मोदी
पटना हाई कोर्ट के शताब्दी समापन समारोह में नरेंद्र मोदी ने कोर्ट में टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने की अपील की। उन्होंने कहा कि इससे जल्द न्याय मिलेगा और क्वालिटी और जजमेंट में भी सुधार होगा। मोदी ने कहा कि आज के बार के लोग पहले के लोगों से ज्यादा भाग्यवान हैं। आज उन्हें टेक्नोलॉजी का सपोर्ट मिलता है। पहले जब किसी केस में रिफरेंस निकालना होता था तो बहुत समय लगता था। आज गूगल की मदद से सब आसानी से पता चल जाता है।
आजादी की लड़ाई में सबसे आगे थे वकील
मोदी ने कहा कि आजादी की लड़ाई में बार मेंबर और वकील सबसे आगे थे। वकील जानते थे कि कैसे बुद्धि का इस्तेमाल कर अंग्रेजी हुकूमत को भगाया जा सकता है। ब्रिटेन यात्रा के दौरान मुझे एक सुखद अनुभूति हुई थी। भारत के स्वतंत्रता सेनानी मदन लाल ढींगरा लंदन में रहकर कोर्ट में अंग्रेजों के खिलाफ लड़ते थे। उस समय की बार काउंसिल ने उनकी डिग्री जब्त कर ली थी। ब्रिटेन के डेविड कैमरन ने मुझे डिग्री लौटकर उन्हें फिर से सम्मानित किया था।
बीती शताब्दी से हैं सीखने की जरूरत
मोदी ने कहा कि आज पटना हाई कोर्ट के शताब्दी समापन का समारोह है। बीते 100 साल में कोर्ट ने जिस ऊंचाई को प्राप्त किया है, जिस कार्य संस्कृति के द्वारा आम लोगों में न्यायपालिका के प्रति आशा बंधी है, यह उत्तम है। हमें बीते 100 साल से सीख लेते हुए आगे के 100 साल के लिए मजबूत नींव रखने की जरूरत है। अगली शताब्दी कैसी हो इसकी जिम्मेदारी यहां बैठे सभी लोगों की है। अगली शताब्दी की नींव जितनी पक्की होगी उतना ही लोगों का न्याय और लोकतंत्र के प्रति विश्वास गहरा होगा।
पटना हाईकोर्ट से निकले हैं कई महापुरुष
मोदी ने कहा कि इस तरह के आयोजन के साथ नए संकल्प लेने का भी अवसर होता है। पटना हाईकोर्ट और यहां के बार ने अनेक महापुरुषों को जन्म दिया है। अनेक महान लोग आपने बीच से निकले हैं। आगे भी ऐसी परंपरा बनी रहेगी मुझे इसका भरोसा है।’
व्यवस्था को प्राणवान बनाए रखना है चुनौती
मोदी ने कहा कि मैं जब गुजरात का सीएम था तब एक स्कूल के स्थापना समारोह में गया था। जिस गांव में स्कूल था उसमें साक्षरता की दर करीब 30-32 फीसदी थी। मुझे पता चला कि उस गांव में 120 साल से स्कूल था। तब मुझे लगा कि अगर व्यवस्था समय के अनुकूल और प्रोग्रेसिव नहीं होगी तो हम समय के साथ नहीं चल सकते। हमारे सामने चुनौती है कि व्यवस्था को प्राणवान बनाए रखें। इस दिशा में 100 साल के अनुभव का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।
कोर्ट में पड़े पेंडिंग केस पर जताई चिंता
मोदी के मुताबिक ‘मेरा एक सुझाव है कि क्या कोर्ट में हर वर्ष एक बुलेटिन निकाल सकते हैं। जिसमें यह लिखा हो कि हमारे कोर्ट में कितने पुराने केस पेंडिंग हैं। कोई केस 50 साल से पेंडिंग है तो कोई 60 साल से। इसके लिए आप लोग जिम्मेदार नहीं हैं, उस समय के लोग तो रिटायर्ड हो गए होंगे। इसमें कोई गलत बात नहीं है। इससे लोग चर्चा करेंगे। इससे अच्छा माहौल बनेगा, जिससे कोर्ट में कम केस पेंडिंग रहेंगे।
25 एंट्री पास गायब, अलर्ट पर सिक्युरिटी एजेंसियां
नरेंद्र मोदी पटना हाईकोर्ट के एक प्रोग्राम में शामिल होने के लिए शनिवार को यहां पहुंचे थे। इस प्रोग्राम के 25 एंट्री पास गायब होने के बाद सिक्युरिटी एजेंसियां अलर्ट पर हैं। हाईकोर्ट के इस शताब्दी समारोह में नीतीश कुमार भी शामिल हुए।
एसएसपी बोले- अलर्ट पर है पुलिस
एसएसपी मनु महाराज ने कहा है कि एंट्री पास गायब होने के बारे में किसी ने शिकायत दर्ज नहीं कराई है। लेकिन पुलिस अलर्ट पर है। एसएसपी के मुताबिक, पुराने एंट्री पास कैंसिल कर दिए गए हैं। शनिवार सुबह नए पास जारी किए गए। महाराज के मुताबिक, सभी पुलिस अफसरों से कहा गया है कि प्रोग्राम में आने वाले सभी लोगों के पास बारीकी से चेक किए जाएं। सभी गेट्स पर मैटल डिटेक्टर भी लगाए गए हैं।
मोदी के प्रोग्राम में शामिल नहीं हुए शत्रुघ्न
शत्रुघ्न सिन्हा हाजीपुर में मोदी की रैली में शामिल नहीं हुए। शत्रुघ्न की भाभी शीला सिन्हा की गुरुवार को मौत हो गई थी। वे इसी वजह से मोदी के प्रोग्राम में नहीं पहुंचे।
लोकसभा चुनाव के दौरान हुआ था धमाका
27 अक्टूबर 2013 को भाजपा की रैली के दौरान पटना जंक्शन और गांधी मैदान में बम धमाके हुए थे। उस वक्त नरेंद्र मोदी मंच से सभा को संबोधित कर रहे थे। 5 लोगों की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हुए थे।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *