Breaking News

मौलाना सादिक बोले: जब मैंने हिन्दू धर्म को जाना, मोहब्बत हो गयी

dharma2सोशल मीडिया पर विश्व प्रसिद्ध मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें उन्होंने हिन्दू धर्म की तारीफ करते हुए कहा था कि पहले मै भी हिन्दू धर्म से नफरत करता था इसलिए मैंने इस धर्म के बारे में जानने का निर्णय किया, जब मैंने हिन्दू धर्म को पूरी तरह से जान लिया तो मुझे हिन्दू धर्म से मुहब्बत हो गयी। वैसे यह वीडियो वर्ष 2013 का है लेकिन वायरल आज हो रहा है और आज वायरल इसलिए हो रहा है क्यूंकि श्री श्री रविशंकर की अगुवाई में नयी दिल्ली में वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल हो रहा है जिसमें विश्व के सभी धर्म के लोगों से आपस में शांति बनाये रखने की अपील की जा रही है।

पढ़ें मौलाना कल्बे सादिक ने क्या कहा था:

उन्होंने कहा था कि हजरत अली ने एक बहुत अच्छी बात कही है कि इंसान जिस चीज को जानता नहीं है उसका दुश्मन हो जाता है। मै जब तक हिन्दू धर्म को जानता नहीं था मुझे यह धर्म अच्छा नहीं लगता था, अब से 15-20 वर्ष पहले इरान से चार पांच धर्मगुरु आये, उन्होंने कहा कि हम इस देश में इसलिए आये हैं क्यूंकि इस देश के अच्छे साधू संतों से मिलना चाहते हैं और उनसे मालूम करना चाहते हैं कि हिन्दू धर्म क्या है और इसका मतलब क्या है। मै उनको लेकर वाराणसी चला गया। वहां एक प्राचीन मंदिर था उसमे मै गया। मैंने देखा कि मंदिर की दीवारों पर गीता के श्लोक लिखे गए थे।

मौलाना ने बताया कि मैंने उस समय तक गीता पढ़ी नहीं थी और उसका अध्ययन नहीं किया था, गीता जी का पहला श्लोक पढने के बाद मै तो आश्चर्यचकित रह गया, मैंने उस श्लोक का पर्सियन में अनुवाद किया और उन मुस्लिम धर्मगुरुओं से पूछा कि ‘अब बताओ कि इसमें क्या लिखा है’, उन्होंने जवाब किया कि यह तो कुरान की आयत है। मैंने उन्हें बताया कि यह कुरान की आयत नहीं है बल्कि गीता जी का श्लोक है।

Loading...

मौलाना ने बताया कि इसी तरह से मैंने 6-7 श्लोक पढ़े और उसका पर्सियन में अनुवाद किया और उनसे पूछा कि यह क्या है तो उन्होंने बताया कि ये तो कुरान की आयते हैं। वे हैरत में पड़ गए कि ‘कहाँ गीता कहाँ कुरान, वो अरब में उतरा ये यहाँ। मौलाना ने बताया कि वहां से मुझे दिलचस्पी हुई और मैंने हिन्दू धर्म का अध्ययन किया। इसके बाद मेरी हिन्दू धर्म के प्रति दुश्मनी मोहब्बत में बदल गयी।

देखें वीडियो:

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *