Breaking News

कैम्पबेल ने किया 44 वर्ष की उम्र में अंतरराष्ट्रीय टी-20 पदार्पण

campbellहांगकांग के रेयान कैम्पबेल ने मंगलवार को ट्‍वेंटी-20 विश्व कप के ग्रुप ‘बी’ में जिम्बाब्वे के खिलाफ खेलने के साथ ही इतिहास रच दिया। वे अंतरराष्ट्रीय ट्वेंटी-20 क्रिकेट में पदार्पण करने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बने।

हांगकांग के क्रिकेट निदेशक चार्ली बुरके ने कैम्पबेल को टी-20 कैप प्रदान की। कैम्पबेल ने यूएई के तौकिर का रिकॉर्ड तोड़ा। तौकिर ने 43 वर्ष 179 दिन की उम्र में अंतरराष्ट्रीय टी-20 पदार्पण किया था। कैम्पबेल ने 44 वर्ष 30 दिन की उम्र में अंतरराष्ट्रीय टी-20 पदार्पण किया। कैम्पबेल इसी के साथ दो देशों का प्रतिनिधित्व करने वाले क्रिकेटर्स के चुनिंदा समूह में भी शामिल हो गए। कैम्पबेल ने इससे पहले ऑस्ट्रेलिया का अंतरराष्ट्रीय वन-डे मैचों में प्रतिनिधित्व किया है।

कैम्पबेल ने 17 जनवरी 2002 को सिडनी में न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय वन-डे पदार्पण किया था। उन्होंने अपना अंतिम वन-डे ऑस्ट्रेलिया की तरफ से श्रीलंका के खिलाफ पर्थ में 22 दिसंबर 2002 को किया था। कैम्पबेल दाएं हाथ के बल्लेबाज होने के साथ ऑफ ब्रेक गेंदबाजी करते हैं और विकेटकीपर की भूमिका भी निभाते हैं। कैम्पबेल ने कहा कि उनका पहला लक्ष्य टीम की बल्लेबाजी को सुधारने पर रहेगा, उसके बाद वे खुद पर ध्यान देंगे।

Loading...

कैम्पबेल अपने निजी कार्य की वजह से एशिया कप में नहीं खेल पाए थे। वे 2012 में कोलून क्रिकेट क्लब से कोच के रूप में जुड़े। उनका अनुभव युवा हांगकांग टीम के काम आएगा। 2014 में वे कोलून क्लब की तरफ से 107 गेंदों में 303 रनों की नाबाद पारी खेलकर स‍ुर्खियों में आए थे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *