Breaking News

पाकिस्‍तान को भारी पड़ेगा अमेरिका के साथ ‘डबल गेम’, 48 घंटे में हो सकती है बड़ी कार्रवाई

नई दिल्ली। एक वक्‍त था जब अमेरिका पाकिस्‍तान का मुरीद हुआ करता था। उसे लगता था कि पाकिस्‍तान से अच्‍छा कोई दोस्‍त हो नहीं सकता है। लेकिन, उसी पाकिस्‍तान ने अपने सबसे अच्‍छे दोस्‍त की पीठ में खंजर भोंक दिया। साथ ही उसके साथ डबल गेम करता रहा। वो भी सालों तक। लेकिन, अब अमेरिका ने पाकिस्‍तान को साफ तौर पर कह दिया है कि उसका डबल गेम नहीं चलेगा। अमेरिका पाक की नापाक हरकतों को जान चुका है। उसे समझ चुका है। कहा तो ये भी जा रहा है कि पाक को सबक सिखाने के लिए अमेरिका 48 घंटे के भीतर उसके खिलाफ कोई बड़ी कार्रवाई भी कर सकता है। ताकि उसे पता चल सके कि अमेरिका के साथ डबल गेम करने का क्‍या अंजाम होता है।

यानी ऐसे में कह सकते हैं कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप का पाकिस्‍तान पर अटैक जारी है। ट्रंप प्रशासन पाक को छोड़ने के मूड में नहीं है। ट्रंप के बाद अब संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राजदूत निकी हेली ने पाकिस्‍तान पर निशाना साधा है। निकी हेली का कहना है कि इस्‍लामाबाद सालों से वॉशिंगटन के साथ डबल गेम खेलता आ रहा है लेकिन, अब उसका डबल गेम बर्दास्‍त नहीं किया जाएगा। ट्रंप प्रशासन को पाक का ये डबल गेम एकदम अस्‍वीकार्य है। निकी हेली ने ये बयान संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप द्वारा पाकिस्तान को 1625 करोड़ रुपये की सैन्य मदद पर लगाई गई रोक के समर्थन में ये बयान दिया। माना जा रहा है कि पाकिस्‍तान को अब आर्थिक नुकसान के साथ-साथ सैन्‍य नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।

निकी हेली ने अपने बयान में स्‍पष्‍ट तौर पर कहा है कि पाकिस्‍तान को आर्थिक सैन्‍य मदद रोके जाने के उसके पास कई कारण है। वो अमेरिका के साथ डबल गेम खेलता है। निकी हेली का कहना है कि पाकिस्‍तान हमारे साथ काम करता है और उसी वक्‍त वो उन आतंकियों को भी संरक्षण देता है जो अफगानिस्‍तान में अमेरिकी फौज पर हमला करते हैं। निकी हेली का कहना है कि डोनाल्‍ड ट्रंप के प्रशासन को उसका ये डबल गेम कतई बर्दास्‍त नहीं। अमेरिका का कहना है कि हमे उम्‍मीद थी कि पाकिस्‍तान आतंकवाद के खिलाफ लडाई में हमारी मदद करेगा। लेकिन, पाक ने डबल गेम किया। हालांकि अमेरिका ने एक बार फिर पाक को समझाने की कोशिश की है। उसका कहना है कि अगर पाक अपनी हरकतों को छोड़कर आतंकवाद के खिलाफ जंग में उसका समर्थन करता है तो उसे दी जाने वाली सहूलियतें जारी रखी जा सकती हैं।

Loading...

लेकिन, अगर पाक अमेरिका के साथ डबल गेम कर आतंकवाद को यूं ही सपोर्ट करता रहा तो उसे अमेरिका से मिलने वाली हर मदद को रोक दिया जाएगा। निकी हेली ने खुलेतौर पर कहा है कि पाक आतंकी संगठनों को संरक्षण दे रहा है। इससे पहले अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने अपने पूर्व की सरकारों और पाकिस्‍तान पर हमला करते हुए ट्वीट किया था कि अमेरिका ने मूर्खतापूर्ण ढंग से बीते 15 सालों में पाकिस्तान को 33 अरब डॉलर की मदद की है। लेकिन, बदले में अमेरिका को सिर्फ छल और झूठ के अलावा कुछ भी नहीं मिला। अमेरिका का कहना है कि पाक ने हमारे नेताओं को मूर्ख समझ लिया था। हमारे लोग अफगानिस्‍तान में आतंकियों की खाक छानते रहे और पाकिस्‍तान आतंकियों को अपने यहां पर सुरक्षित पनाहगाह देता रहा। लेकिन, ये सब अब और बर्दास्‍त नहीं किया जाएगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *