Breaking News

यूपी: स्कूलों में ठिठुर रहे बच्चे, स्वेटर के मोल-भाव में फंसी सरकार

लखनऊ। बेसिक स्कूलों  के बच्चों के स्वेटर की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। गुरुवार को इसके लिए खोले गए टेंडर में दो फर्में टेक्निकल बिड की शर्तें पूरी करने में तो सफल रहीं लेकिन दाम पर पेंच फंस गया है। सूत्रों की मानें तो फर्मों ने जिस रेट पर स्वेटर देने का प्रस्ताव दिया है वह सरकार की उम्मीद से बहुत ज्यादा है।

गवर्नमेंट ई-पोर्टल पर बच्चों को नि:शुल्क बांटे जाने वाले स्वेटर का कोई खरीददार न मिलने पर बेसिकशिक्षा विभाग ने अपने स्तर से टेंडर जारी किया था। 22 दिसंबर तक इसके लिए उपयुक्त फर्में नहीं मिलीं तो तारीख बढ़ाकर 27 दिसंबर की गई थी। गुरुवार को इसके टेंडर खोले गए तो पांच फर्मों के प्रस्ताव मिले थे। इसमें महज दो ही तकनीकी अर्हता पूरी कर रहे थे। हालांकि, शाम को जब फाइनैंशल बिड खोली गई तो उम्मीद फिर धूमिल नजर आने लगी।

Loading...

सूत्रों के मुताबिक, सरकार प्रति स्वेटर 200 रुपये खर्च करना चाहती है जबकि फर्मों का प्रस्ताव इससे डेढ़ गुना तक ज्यादा है। फिलहाल आधिकारिक तौर पर कोई भी अधिकारी इस पर बोलने को तैयार नहीं है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *