Breaking News

299* पर पैवेलियन लौटने वाले दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज हैं सर डॉन ब्रैडमैन…

sir-don-bradmanनई दिल्ली। यह तो आप निश्चित रूप से जानते होंगे कि ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन (Don Bradman) सहित टेस्ट क्रिकेट की दुनिया में कुल चार ही ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनके नाम दो तिहरे शतक दर्ज हैं, लेकिन क्या आप यह भी जानते हैं कि दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाज कहे जाने वाले ब्रैडमैन एक मौके पर 299 नॉट आउट के स्कोर पर पैवेलियन लौटने के लिए मजबूर हो गए थे, और अगर उन्हें सिर्फ एक और रन बनाने का मौका मिल गया होता, तो आज तक सबसे ज़्यादा, यानी तीन तिहरे शतकों का विश्वरिकॉर्ड उन्हीं के नाम होता…

वर्ष 1932 में एडिलेड में खेले गए सीरीज़ के चौथे मैच में कंगारू टीम ने मेहमान दक्षिण अफ्रीकी टीम के पहली पारी के 308 रनों के खिलाफ बल्लेबाजी शुरू की, और पहला विकेट कुल 9 रन पर गंवा दिया… इसके बाद पिच पर आए सर डॉन ब्रैडमैन ने अपने हर साथी के साथ साझेदारी की, लेकिन आखिरकार जब वह 299 के स्कोर पर थे, उनका आखिरी साथी पड थरलो (Pud Thurlow) बिना कोई रन बनाए रन आउट हो गया, और नॉट आउट होते हुए भी ब्रैडमैन तिहरे शतक से चूक गए… वैसे, ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच जीतकर सीरीज़ में 4-0 की बढ़त हासिल की थी…

दो बल्लेबाज सिर्फ एक रन से दोहरे शतक से चूके…
क्रिकेट के इतिहास में नॉट आउट रहकर भी सिर्फ एक रन से तिहरे शतक से चूकने का यह एकमात्र मौका था, लेकिन नाबाद रहकर भी सिर्फ एक रन से दो बल्लेबाज दोहरे शतकों से, और पांच बल्लेबाज शतक से भी चूके हैं…

नॉट आउट रहकर 199 रन के निजी स्कोर पर पैवेलियन लौटने वाले बल्लेबाजों में पहला नाम है ज़िम्बाब्वे के एन्डी फ्लॉवर (Andy Flower) का है, जो सितंबर, 2001 में हरारे में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलते हुए पहली पारी में 142 रन बनाने के बावजूद टीम को फॉलोऑन से नहीं बचा पाए, और दूसरी पारी में भी सभी साथियों के ऑल आउट हो जाने की वजह से 199 नाबाद के निजी स्कोर पर पैवेलियन लौट गए… इस मैच में ज़िम्बाब्वे हार गया था, और मेहमान टीम दो मैचों की सीरीज़ में 1-0 से आगे हो गई थी…

नॉट आउट रहकर सिर्फ एक रन से दोहरे शतक से चूकने वाले दूसरे बल्लेबाज हैं श्रीलंका के कुमार संगकारा, जो वर्ष 2012 में गाले के मैदान में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए पहली पारी में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए, और फिर सभी साथियों के साथ साझेदारी करते हुए आखिरकार 199 के निजी स्कोर पर नॉट आउट रहकर पैवेलियन लौटे… श्रीलंका ने यह मैच जीतकर तीन मैचों की सीरीज़ में 1-0 की बढ़त बना ली थी…

Loading...

99* के स्कोर पर भी पांच बल्लेबाज लौटे हैं पैवेलियन…
सिर्फ एक रन से शतक से चूकने वाले सबसे पहले बल्लेबाज इंग्लैंड के जेफरी बॉयकॉट (Geoff Boycott) थे, जो वर्ष 1979 के आखिरी महीने में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ में खेलते हुए 99 के निजी स्कोर पर पैवेलियन लौटने को मजबूर हुए… ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ (Steve Waugh) इतिहास के दूसरे ऐसे बल्लेबाज थे, जो 1995 में पर्थ में ही इंग्लैंड के खिलाफ 99 नॉट आउट के निजी स्कोर पर वापस आए…

इंग्लैंड के एलेक्स ट्यूडर (Alex Tudor) तीसरे ऐसे बल्लेबाज बने, जो नाबाद होने के बावजूद सिर्फ एक रन से शतक पूरा करने से चूक गए… ट्यूडर वर्ष 1999 में बर्मिंघम में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेलते हुए 99 नॉट आउट के स्कोर पर पैवेलियन लौटे थे… उनके बाद वर्ष 2002 में दक्षिण अफ्रीका के शॉन पोलॉक (Shaun Pollock) सेंचुरियन के मैदान में श्रीलंका के खिलाफ 99 रन के नॉट आउट स्कोर पर पैवेलियन लौटने के लिए मजबूर हुए थे… नॉट आउट होने पर भी सिर्फ एक रन से शतक से चूकने वाले आखिरी बल्लेबाज भी दक्षिण अफ्रीका के ही एंड्रयू हॉल (Andrew Hall) थे, जो वर्ष 2003 में लीड्स के मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ 99 रन पर वापस आए…

हम तो सिर्फ इतना ही चाहेंगे कि काश, यह सूची ऐसी ही बनी रहे, और अब इसमें कोई और नाम न जुड़े, लेकिन क्रिकेट हमेशा से अनिश्चितताओं का खेल रहा है, सो, कुछ कह भी नहीं सकते…

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *