Breaking News

2G फैसले पर बोले मनमोहन- खराब नीयत से लगाए थे आरोप, फैसला सबकुछ कहता है

नई दिल्ली। देश का सबसे बड़ा घोटाला माने जाने वाले 2जी स्कैम में पटियाला कोर्ट का फैसला आ गया है. कोर्ट ने पूर्व मंत्री ए. राजा, द्रमुक सांसद कनिमोझी समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. फैसले के बाद विपक्ष भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर है.

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी फैसले को लेकर बीजेपी पर हमला बोला है. मनमोहन सिंह ने कहा कि कोर्ट का फैसला अपने आप में ही सब कह रहा है, उस दौरान सरकार के खिलाफ प्रोपेगेंडा चलाया गया था. जिस पर आज कोर्ट ने इस मुद्दे पर ऐतिहासिक फैसला सुनाया गया है. मनमोहन सिंह ने कहा कि यूपीए सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार किया गया था, गलत नीयत से सरकार को बदनाम किया गया था.

गौरतलब है कि देश के सबसे बड़े घोटालों में से एक माने जाने वाले 2जी घोटाले में आज कोर्ट का फैसला आया है. पटियाला कोर्ट ने गुरुवार को बड़ा फैसला सुनाते हुए पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा, द्रमुक सांसद कनिमोझी समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. इस घोटाले को 1 लाख 76 हज़ार करोड़ रुपए का बताया गया था.

कोर्ट के फैसले के बाद वकील ने बाहर आकर बताया कि कोर्ट में आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं है, दो पक्षों के बीच पैसों का लेन-देन होने का कोई सबूत नहीं है. वकील ने बताया कि जज ने सिर्फ एक ही लाइन में फैसला पढ़ा और कहा कि सभी आरोपियों को बरी किया जाता है.

विपक्ष हमलावर

Loading...

कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस और डीएमके नेताओं ने बीजेपी पर निशाना साधा है. सिब्बल ने कहा कि ये लीगल विक्ट्री है. मैंने पहले ही कहा था कि ये जीरो लॉस है, और वही हुआ. प्रधानमंत्री के लेवल में इस तरीके के भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगाना चाहिए. पूर्व कैग प्रमुख को निशाने पर लेते हुए सिब्बल ने कहा कि विनोद राय को देश के सामने माफी मांगनी चाहिए. देश को गुमराह किया गया. यूपीए सरकार को गलत साबित किया. विनोद राय ने सब गलत किया है.

संसद में भी वार

संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्ष का सरकार पर हमला जारी है. 2 जी घोटाले पर फैसले के बाद राज्यसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया. विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद ने राज्यसभा में इस मुद्दे को उठाया. गुलाम नबी आजाद ने सदन में कहा कि जिस घोटाले के कारण हमारी सरकार गई, वो घोटाला तो हुआ ही नहीं. बीजेपी इस मुद्दे पर जवाब दे.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *