Breaking News

नरेन्‍द्र मोदी की पत्‍नी जशोदाबेन को अपने खेमे में लाने की कोशिश भी की थी कांग्रेस ने

अहमदाबाद। बुरी तरह पराजित होने के बाद कांग्रेस गुजरात चुनाव में अपनी सारी ताकत झोंक रही है। येन केन प्रकारेण गुजरात में जीत दर्ज करने के लिए पार्टी दिन-रात एक किये हुए है। इसी क्रम में एक और चौंकाने वाली ख्‍बर है कि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की पत्‍नी जशोदाबेन को चुनाव मैदान में उतारने की कोशिश की थी। मीडिया में चल रही खबर के अनुसार यह खुलासा जशोदाबेन की एक रिश्‍तेदार ने किया है।

भाजपा हो या कांग्रेस कोई कसर छोड़ना नहीं चाहते हैं। इसी क्रम में कांग्रेस ने पीएम नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन को अपने खेमे में शामिल करने की कोशिश की थी। दरअसल, यह जशोदाबेन की एक रिश्तेदार का कहना है। बीजेपी हो या फिर कांग्रेस दोनों ही दल जीत हासिल करने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहते लेकिन कांग्रेस, सियासी नफे के लिए जशोदाबेन तक पहुंच गई, यह बात वाकई भारतीय जनता पार्टी के लिए चौंकानेवाली है।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा 130 सीटों से ज्यादा पर जीत दर्ज करेगी। एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए अलवर में अपने भाई अशोक के साथ पहुंची जशोदाबेन ने लड़कियों की शिक्षा और महिला सशक्तिकरण जैसे अहम मुद्दों पर लोगों को संबोधित किया। जशोदाबेन के भाई अशोक ने कहा कि उनकी बहन ने नरेंद्र मोदी को अपना जीवन देश की सेवा में समर्पित कर देने के लिए कहा है। यही नहीं उन्होंने यह भी कहा,’नरेंद्र मोदी महिलाओं की इज्जत करते हैं, मेरी बहन प्रार्थना करती हैं कि वह एक दिन उनके पास वापस लौट आएंगे।’

Loading...

ज्ञात हो कांग्रेस के अध्‍यक्ष बनने वाले पार्टी उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी इस बार गुजरात चुनाव प्रचार में बेहद आक्रामक अंदाज में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ हमला बोलते नजर आये। यह बात दीगर है कि राहुल के हर वार का भाजपा ने बड़ी ही चतुराई के साथ जवाब दिया। कांग्रेस की अगर बात करें तो वह नरेन्‍द्र मोदी के खिलाफ हमलावर तो हैं लेकिन बड़ी ही सतर्कता के साथ कदम रख रही है। इसका अंदाज इस बात से मिलता है कि पिछले दिनों जब पूर्व केंद्रीय मंत्री मणिशंकर अय्यर ने प्रधाममंत्री मोदी पर अभद्र टिप्‍पणी की तो राहुल गांधी ने इस पर तुरंत उन्‍हें टोकते हुए माफी मांगने की सलाह दे डाली।

माना जा रहा है कि कांग्रेस आम जनता में मोदी की छवि को देखते हुए यह नहीं चाहती है कि किसी भी तरह से पार्टी के नेताओं द्वारा मोदी के लिए कहा गया कोई शब्‍द पार्टी को पीछे न धकेल दे।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *