Breaking News

पकड़ा गया कांग्रेसी आतंकवादी, बेदार बख्त आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का है सदस्य

नई दिल्ली। कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई का छात्र नेता धन्नु राजा उर्फ बेदार बख्त आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य निकला. नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने उसे बिहार के गोपालगंज से गिरफ्तार किया है. उसके एक साथी अब्दुल नईम शेख को भी पकड़ा गया है. ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए एनआईए टीम 3 दिन से एजेंट्स पर नजर रख रही थी. बताया जा रहा है कि आरोपी राजा गोपालगंज की स्टूडेंट यूनियन में 5 साल से एक्टिव था. हालांकि, कांग्रेस इससे इंकार कर रही है परंतु सोशल मीडिया सहित स्थानीय अखबारों में उसकी फोटो कांग्रेस के प्रमुख नेता के रूप में छपीं हैं.

  NSUI का लीडर था संदिग्ध आतंकी

सूत्रों के मुताबिक, एनआईए ने शुक्रवार रात लोकल पुलिस की मदद से छापेमारी की. धन्नु राजा उर्फ बेदार बख्त को उसके मामा के घर से अरेस्ट किया. राजा सारण जिले का रहने वाला है. वह गोपालगंज की स्टूडेंट यूनियन में कांग्रेस का लीडर था और 5 साल राजनीति में एक्टिव था. हालांकि, NSUI के स्टेट प्रेसिडेंट चुन्नू सिंह ने कहा कि गोपालगंज से अरेस्ट किया गया धन्नू राजा संगठन का पदाधिकारी नहीं है.

साइंस सेकंड ईयर का स्टूडेंट है राजा

धन्नु राजा कमला राय कॉलेज में ग्रेजुएशन में साइंस सेकंड ईयर का स्टूडेंट था. मामा के घर छपरा में रहकर पढ़ाई करता था. गांव के लोगों ने बताया कि राजा छपरा में कम्प्यूटर इंस्टीट्यूट खोलकर स्टूडेंट्स को पढ़ाता भी था. हाल में ही उसने दूसरा इंस्टीट्यूट खोला था. फैमिली का कहना है कि राजा को साजिश के तहत फंसाया गया है. वह बेगुनाह है.

आतंकी वारदात से है कनेक्शन

पिछले दिनों एनआईए और सिक्युरिटी एजेंसियों को गोपालगंज से आतंकी वारदात के कनेक्शन के इनपुट मिले थे. इसके बाद यह कार्रवाई की गई. आईबी से मिली सीक्रेट इन्फॉर्मेशन के बाद एनआइए ने राजा को पकड़ा और गिरफ्तार करने के बाद उसे लेकर पटना से दिल्ली चली गई.

लश्कर एजेंट से मिले थे अह सुरा

Loading...

उधर, गोपालगंज एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी ने बताया कि एनआईए ने लश्कर के एजेंट अब्दुल नईम शेख को अरेस्ट किया था. उससे पूछताछ में राजा का नाम सामने आया. इसके बाद जांच एजेंसी की टीम 30 नवंबर को गोपालगंज पहुंची. उसे 1 दिसंबर को उसे शहर के जादोपुर रोड से अरेस्ट किया गया.

धन्नु राजा कमला राय कॉलेज में ग्रेजुएशन में साइंस सेकंड ईयर का स्टूडेंट था. मामा के घर छपरा में रहकर पढ़ाई करता था. गांव के लोगों ने बताया कि राजा छपरा में कम्प्यूटर इंस्टीट्यूट खोलकर स्टूडेंट्स को पढ़ाता भी था. हाल में ही उसने दूसरा इंस्टीट्यूट खोला था. फैमिली का कहना है कि राजा को साजिश के तहत फंसाया गया है. वह बेगुनाह है.

आतंकी वारदात से है कनेक्शन

पिछले दिनों एनआईए और सिक्युरिटी एजेंसियों को गोपालगंज से आतंकी वारदात के कनेक्शन के इनपुट मिले थे. इसके बाद यह कार्रवाई की गई. आईबी से मिली सीक्रेट इन्फॉर्मेशन के बाद एनआइए ने राजा को पकड़ा और गिरफ्तार करने के बाद उसे लेकर पटना से दिल्ली चली गई.

लश्कर एजेंट से मिले थे अह सुराग

उधर, गोपालगंज एसपी मृत्युंजय कुमार चौधरी ने बताया कि एनआईए ने लश्कर के एजेंट अब्दुल नईम शेख को अरेस्ट किया था. उससे पूछताछ में राजा का नाम सामने आया. इसके बाद जांच एजेंसी की टीम 30 नवंबर को गोपालगंज पहुंची. उसे 1 दिसंबर को उसे शहर के जादोपुर रोड से अरेस्ट किया गया.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *