Breaking News

गुजरात चुनाव: पीएम मोदी ने साधा इंदिरा गांधी पर निशाना, कहा-वह मुंह पर रुमाल रखकर मोरबी आईं थी

मोरबी, गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात में चार रैलियां करेंगे जिसकी शुरुआत हुई मोरबी से। रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मोरबी से मेरा नाता काफी पुराना है, लोकसभा में जब यहां आया था तब आज से आधी भीड़ आई थी। मैं हमेशा ही मोरबी के सुख-दुख में साथ रहा हूं। बीजेपी-संघ हमेशा मोरबी के साथ रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के नेताओं के बारे में कोई ऐसा नहीं बोल सकता है। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी मुंह पर रुमाल रखकर मोरबी आईं थीं। मोरबी के अलावा पीएम मोदी तीन और रैलियां करेंगे। दोपहर 1 बजे पीएम जूनागढ़ के प्राची में, साढे तीन बजे भावनगर ज़िले के पालीताना में रैली करेंगे जबकि चौथी और आखिरी रैली शाम साढे पांच बजे नवसारी में होगी। पीएम मोदी इससे पहले सोमवार को भी चार रैलियां कर चुके हैं।

लाइव अपडेट्स

  • हमारे लिए विकास चुनाव जीतना नहीं है बल्कि लोगों की सेवा करना है
  • हमने गुजरात में हमने पानी की हर बूंद बचाने का अभियान चलाया क्योंकि हम समझते हैं कि पानी की कमी से क्या होता है
  • हर अच्छे-बुरे वक्त में जन संघ और बीजेपी साथ रही
  • 2022 तक देश के किसानों की आय दोगुनी करना लक्ष्य
  • बीजेपी का मॉडल नर्मदा प्रोजेक्ट की तरह है जबकि कांग्रेस का मॉडल हैंडपंप की तरह है
  • मोदी ने इंदिरा गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वह मुंह पर रुमाल रखकर मोरबी आईं थी

View image on Twitter

Loading...
View image on Twitter

When Indira Ben came to Morbi,I remember there was a photo of her in Chitralekha Magazine with a hanky over her nose due to the foul smells, but for Jansangh/RSS the streets of Morbi are fragrant,its the fragrance of humanity: PM Modi

  • सुख-दुख में मोरबी की जनता के साथ खड़े रहे हैं
  • उनकी सरकार ने मोरबी की सहायता की थी
  • सभा में पहुंचकर पीएम मोदी ने कहा कि मोरबी से उनका पुराना नाता है
  • हर अच्छे-बुरे वक्त में जन संघ और बीजेपी मोरबी के लोगों के साथ खड़ी रही है

इससे पहले भी पीएम मोदी ने अपनी रैलियां में कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि गुजरात की जनता कांग्रेस को कभी माफ नहीं करेगी। कांग्रेस ने कभी को गुजरात को ध्यान में नहीं रखा, ये सरदार पटेल के जमाने से हो रहा है। पीएम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने नोटबंदी का एक साल पूरा होने पर विरोध किया, जीएसटी की बैठक में कांग्रेस ने साथ दिया, लेकिन बाहर आकर विरोध का नाटक कर रही है। गौरतलब है कि राज्य में 9 एवं 14 दिसंबर को दो चरणों में मतदान होगा और 18 दिसंबर को नतीजे आएंगे। कांग्रेस भाजपा को सत्ता से बाहर करने के प्रयासों में जुटी है जिसकी पिछले दो से अधिक दशक से सरकार है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *