Breaking News

कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय कपूर थाम सकते हैं सपा का दामन, पूर्व मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल से नाराज हैं कपूर

लखनऊ। यूपी के निकाय चुनाव का प्रचार अपने चरम पर है। सभी प्रत्याशी अपनी-अपननी रैली और रोड शो में वयस्त हैं। सभी प्रत्याशी अपनी रैलियों से विपक्ष के प्रत्याशियों के खिलाफ माहौल बना रहे हैं। नेताओं के बीच चल रही गुट बाजी को खत्म करने  के लिए देश की बड़ी पार्टियों के दिग्गज नेताओं ने एक बैठक की।

अखिलेश यादव ने कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय कपूर को भी बुलाया। अखिलेश का बुलावा मिलते ही पूर्व विधायक अजय कपूर उनसे मिलने पहुंचे। अखिलेश यादव ने अजय कपूर से कहा कि, धन्यवाद विधायक जी। ऐसी क्या नाराजगी है, हमें बताएं प्लीज। करीब दस मिनट तक दोनों नेताओं के बीच बातचीत चली। इसके बाद सियासत तेज हो गई लोग दबी जुबान में ये चर्चा करने लगे कि कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय कपूर पूर्व मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल से नाराज हैं। यही कारण है कि वे दूसरी पार्टियों के संपर्क में हैं।

निकाय चुनाव में टिकट वितरण को लेकर पार्टियों में घमासान मचा है। कई नेता तो अपने प्रत्याशी को हराने के लिए अंदरखाने से पूरे दांव-पेंच खेल रहे हैं। जिसका नजारा हाल ही की सीएम योगी की रैली में देखने को मिला। रैली में भीड़ न होने के कारण सीएम मे थोड़ी ही देर भाषण दिया और उसके बाद चल गए।

इसी दौरान कांग्रेस और सपा के बीच अंदरखाने चल रही रार की खबरें सामने आई हैं। सबसे चौंकाने वाली बात ये रही जब कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय कपूर अखिलेश यादव के एक बुलावे पर आ पहुंचे।  पार्टी सूत्रों की मानें तो वे पार्टी में खासा तवज्जो न मिलने के कारण वे बेहद नाराज हैं।

Loading...

जिस तरह अखिलेश यादव के एक बुलावे पर अजय उनसे मिलने पहुंचे तो राजनीति के गलियारें में चर्चा तेज हो गई। जानकारों का कहना है कि विधानसभा चुनाव के समय ही कांग्रेस का एक धड़ा अजय कपूर के साथ चल रहे भीतर घात से काफी परेशान था। इस बात की शिकायत पार्टी के हाईकमान तक पहुंचाई गई थी। लेकिन जायसवाल के कारण उनकी एक भी न चली और वंदना मिश्रा को कांग्रेस का टिकट देकर चुनाव में उतार दिया। जिसके खिलाफ अजय कपूर ने ऊषा रत्नाकर शुक्ला को निर्दलीय चुनाव में उतार दिया। इसके बाद प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के बीच में आने के बाद रत्नाकर शुक्ला का नाम वापस लिया गया।

अखिलेश यादव और अजय कपूर की इस मीटिंग के बाद सियासत तेज हो गई है। कहा जा रहा है कि जल्द ही अजय कपूर कांग्रेस का दामन छोड़कर साइकिल की सवारी कर सकते हैं। जानकारों का कहना है कि कानपुर में सपा का कोई लोकप्रिय नेता नहीं है ऐसे में अगर कपूर सपा में शामिल होते हैं तो सपा को बहुत फायदा होगा।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *