Breaking News

13 साल बाद बढ़ी भारत की रेटिंग, मूडीज ने नोटबंदी-GST पर मोदी को सराहा

नई दिल्ली। जीएसटी और नोटबंदी की वजह से लगातार विपक्ष के हमले झेल रही मोदी सरकार को क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने बड़ी राहत दी है. मूडीज ने जीएसटी और नोटबंदी को न सिर्फ सराहा है, बल्क‍ि सरकार की तरफ से उठाए गए ऐसे अन्य आर्थ‍िक फैसलों की तारीफ भी की है. एजेंसी ने कहा है कि जीएसटी जैसे सुधारों ने देश में कारोबार करने के माहौल को सुधारने में अहम भूमिका निभाई है.

बता दें कि इस रेटिंग में करीब 13 साल बाद बदलाव हुआ है, इससे पहले 2004 में भारत की रेटिंग BAA3 थी. इससे पहले 2015 में रेंटिंग को स्टेबल से पॉजिटिव की कैटेगिरी में रखा गया था.

बढ़ेगा विदेशी निवेश

एजेंसी ने कहा है कि अब तक जो रिफॉर्म लागू किए गए हैं. वह सरकार के कई उद्देश्यों को हासिल करने में मदद करेंगे.  एजेंसी के मुताबिक ये सुधार कारोबारी माहौल को सुधारने और  उत्पादकता को बेहतर करने में मदद करेगे. इसके अलावा इनकी वजह से विदेशी और घरेलू निवेश को बढ़ावा देने में भी मदद मिलेगी. आखिर में जीएसटी और इस जैसे अब  तक किए गए सुधार अर्थव्यवस्था का सतत विकास करने में मदद करेंगे.

कारोबार करना हुआ आसान

मूडीज ने कहा कि जीएसटी की वजह से अंतरर्राज्यीय स्तर पर कारोबार करना आसान हुआ है. जिससे देश में कारोबारी माहौल को बेहतर करने में मदद मिल रही है. इसकी वजह से राज्यों के बीच कारोबार करने में आने वाली कई दिक्कतों को दूर करने में मदद मिली है. मूडीज ने कहा कि यह उत्पादकता बढ़ाने में भी अहम भूमिका निभाई है.

लंबी अवध‍ि में दिखेगा असर

क्रेडिट रेटिंग एजेंसी ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी जैसे बड़े रिफॉर्म की वजह से लघु अवधि में भले ही अर्थव्यवस्था पर इनका बेहतर असर देखने को न मिले, लेक‍िन लंबी अवध‍ि में यह व‍िकास दर को बढ़ाने में सबसे अहम भूमिका निभाएंगे.  बता दें कि देश में लगातार जीएसटी और नोटबंदी को लेकर सरकार पर निशाना साधा जा रहा है. जीएसटी को देश की अर्थव्यवस्था की रफ्तार बिगाड़ने वाला करार दिया जा रहा है. ऐसे समय में मूडीज  की यह रेटिंग सरकार के लिए काफी राहत देने वाली साबित हुई है.

Loading...

जीएसटी में हुए बदलाव का रहेगा सकारात्मक असर

जीएसटी के तहत सरकार की तरफ से कारोबारियों और निर्यातकों के लिए रिटर्न भरना आसान किया गया है. छोटे कारोबारियों के लिए  जीएसटी को समझने में मदद की है. इससे भारत की शुद्ध वृद्ध‍ि दर अगले व‍ित्त वर्ष में 7.5 फीसदी के पार पहुंच सकती है. मूडीज ने कहा कि लंबी अवध‍ि में भारती अर्थव्यव्स्था की व‍िकास दर अन्य BAA रेटिंग वाले देशों से बेहतर होगी.

एनपीए को लेकर भी सरकार को सराहा

मूडीज ने जीएसटी के अलावा बैड लोन को लेकर सरकार की तरफ से उठाए जा रहे कदमों की भी तारीफ की है. एजेंसी ने कहा कि ये सभी सुधार अर्थव्यवस्था में अनौपचारिकता को कम करने में मदद करेंगे. एजेंसी ने आधार, डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर समेत अन्य सुधारों को भी सराहा है.

होने वाले सुधारों से भी उम्मीद

मोदी सरकार जमीन और लेबर मार्केट में भी कई बदलाव करने वाली है. मूडीज ने कहा कि इन नये रिफॉर्म का फायदेमंद साबित होना इस बात पर निर्भर करेगा कि सभी राज्य आपस में कितना सहयोग करते हैं. मूडीज ने इसके साथ ही कहा कि इन नये सुधारों का असर दिखने में कुछ समय जरूर लगेगा, लेक‍िन ये अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने वाले साबित होंगे.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *