Breaking News

‘दिल्ली की लड़की को बीवी बना मसूरी ले गए थे हार्दिक, मैने की थी होटल में हनीमून की व्यवस्था’

नई दिल्ली। पाटीदार आंदोलन के दौरान हार्दिक पटेल के सहयोगी रहे अश्विनी सांकडशेरिया ने बड़ा खुलासा किया है। जिससे सेक्स सीडी में फंसे हार्दिक पटेल के लिए बचाव करना मुश्किल हो गया है। दोस्त का खुलासा है कि हार्दिक पटेल बहुत बड़े झूठे हैं।  कभी  खुद को शादीशुदा  बताया था। दिल्ली में एक लड़की को अपनी बीवी बताकर हार्दिक ने उससे परिचय कराया । फिर हार्दिक की डिमांड पर उसने मसूरी के एक रिजार्ट में हनीमून के सारे बंदोबस्त भी किए थे।

अश्विन का कहना है कि-बाद में पता चला कि यह सब हार्दिक पटेल का फरेब था। आंदोलन की डगर से अय्याशी की राह पर हार्दिक के कूच कर जाने पर उसका दिल टूट गया फिर दोनों की राहें जुदा हो गईं।

25 अगस्त से पहले रचाई थी शादी

दिल्ली में रहने वाले  पाटीदार अश्विन सांकडशेरिया का दावा है कि कि हार्दिक ने गरमियों मेंही  शादी कर ली थी।   मसूरी की एक होटल में हनीमून मनाने गया था। अगर  खुफिया एजेंसियां जांच करे तो खुलासा हो सकता है। जिस होटल में हार्दिक ठहरे थे, उस होटल के रजिस्टर की जांच से ही सारे खेल का पता चल जाएगा। दोस्त के मुताबिक पाटीदारों के आंदोलन को गलत दिशा देने और अय्याशी के चलते उन्होंने दूरी बनाई। पाटीदारों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने पर हार्दिक को सजा मिलनी चाहिए। इसके लिए उसने हार्दिक की करतूतों का पूरा चिट्ठा आइबी को भेजा है।

कनॉट प्लेस से लिए थे  कपड़े

दोस्त का दावा है कि हार्दिक पटेल एक दिन दिल्ली पहुंचे। उससे मिले। साथ मौजूद लड़की को अपनी नई-नवेली बीवी बताया। कहा कि पहले बीवी के लिए कपड़े खरीदने हैं। फिर हनीमून मनाने जाना है। हार्दिक ने कथित वीवी के लिए कनॉट प्लेस से कपड़ों की खरीदी की थी। इसकी जानकारी मैंने इसके पहले IB को दी थी। आज भी यही कहता हूं कि यदि आईबी उस होटल की जांच करे, तो हार्दिक के बारे में कई खुलासे हो सकते हैं।

आरोप झूठे तो नहीं आऊंगा गुजरात

Loading...

अश्विन सांकडशेरिया ने ने कहा है कि हार्दिक पटेल को  लेकर लगाए गए उसके आरोप अगर जांच में झूठे मिले तो वह फिर कभी गुजरात में कदम नहीं रखेंगे। अगर हार्दिक पर आरोप लगते हैं तो वे अपना ये आरक्षण आंदोलन छोड़ दे।  सांकडशेरिया ने हमला बोलते हुए कहा कि हार्दिक ने समाज को गुमराह करने के सिवाय कुछ भी नहीं किया है।

मेरे पैरों पर गिर पड़ा था हार्दिक

अश्विन के मुताबिक वह आठ अगस्त को  महेसाणा पहुंचे। तब अवसरा पार्टी प्लॉट के बाहर होटल में हार्दिक ने मुझसे कहा कि-आप ने अपने आगमन की मुझे खबर ही नहीं दी। तब मैंने उससे पूछा था कि तुम तो कहते थे कि तुम्हारी शादी हो चुकी है, अब क्या हुआ? तब वह मेरे पैरों पर गिर पड़ा और कहने लगा-अश्विन भाई किसी से यह मत कहना। अश्विन ने कहा कि मैं पूरे होश-हवास में हार्दिक पर यह आरोप लगा रहा हूं। समाज को धोखा देने वालों को मैं नहीं छोडूंगा। उसने समाज की प्रतिष्ठा को चोट पहुंचाई है।

हनीमून का सारा इंतजाम मैंने ही किया था

अश्विन का दावा है कि उनकी बात 100 फीसद सही है।  2015 के मई महीने के पहले सप्ताह में आंदोलन के दो-तीन महीने पहले वह कार से दिल्ली आया था। उसने मुझसे कहा कि कपड़े की खरीदी कहां से करूं? मेरे सुझाव पर उसने दिल्ली के कनॉट प्लेस से अपनी कथित बीवी  ’ के लिए कपड़े खरीदे।  परिचय कराते हुए कहा भी था कि यह मेरी पत्नी है। उसके बाद उसने मुझसे पूछा कि मसूरी में हनीमून के लिए कौन-सा रिजॉर्ट अच्छा है। तो मैंने ही सारे बंदोबस्त  उसके लिए किए थे। मसूरी की जिस होटल में वह ठहरा था, वहां के रजिस्टर में उसके हस्ताक्षर भी हैं। जांच होने पर दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा कि कौन सही बोल रहा कौन झूठ।

देखिए दोस्त के दावे वाला वीडियो-

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *