Breaking News

योगी के आगे नतमस्तक हाईकमान, सौंपी गुजरात चुनाव प्रचार की कमान

लखनऊ। गुजरात में होने जा रहे विधानसभा चुनाव में बीजेपी की डूबती नैया पार लगाने के लिए पार्टी यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक बड़े हिंदुत्व चेहरे के रूप में पेश करने जा रही है. दरअसल बीजेपी ने  गुजरात चुनाव जीतने के लिए योगी की मैराथन सभाएं कराने का मन बनाया है. बताया जाता है कि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी ने खासतौर पर योगी से गुजरात में चुनाव प्रचार करने की गुजारिश की है और उन्हें विशेष न्योता इस काम के लिए भेजा है।

योगी को बड़े हिंदुत्व चेहरे के रूप में पेश करेगी बीजेपी 

जिसके चलते यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गुजरात चुनाव में अहम रोल माना जा रहा है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक गुजरात में बीजेपी की डामल डोल स्थिति को संभालने के लिए बीजेपी हाईकमान ने योगी को बड़े हिंदुत्व चेहरे के रूप में पेश कर उनकी ताबड़तोड़ सभाएं गुजरात भर में कराये जाने का फैसला किया है. बीजेपी की इस रणनीति के पीछे सबसे बड़ा उद्देश्य यह है कि किसी भी तरह वह राज्य में फिर से अपनी सत्ता पर कब्ज़ा जमा ले. दरअसल पाटीदार आंदोलन के बाद से गुजरात में बीजेपी की स्थिति बिगड़ी हुई चल रही है.

 मोदी के गढ़ में राहुल ने लगायी सेंध                                                                                                                                         सूत्रों के मुताबिक आनंदी बेन के मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद राज्य में बीजेपी की स्थिति को संभालने के लिए विजय रुपानी को मुख्यमंत्री का ताज पार्टी हाईकमान ने पहनाया था, लेकिन उनका कोई जादू  जनता के ऊपर नहीं चल सका. यही नहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी के गढ़ में सेंध लगाने के लिए डेरा दाल रखा है और उन्होंने गुजरात की जनता से यह भी वादा किया है कि वह 25 अक्टूबर को फिर से गुजरात वापस लौट कर आएंगे. हलांकि केंद्र में बीजेपी कि सरकार बनने के बाद से राहुल ने बीजेपी पर जो भी राजनीतिक हमले किये वह निरर्थक ही साबित हुए थे. लेकिन पिछले एक महीने से राहुल गांधी ने विदेश से लौटने के बाद अपनी जो सक्रियता दिखाई है. उससे बीजेपी को बड़ा खतरा महसूस हो रहा है.

Loading...

सीएम योगी जल्दी ही जायेंगे गुजरात 

यही नहीं कांग्रेस ने सोशल मीडिया में भी बड़ी तेजी से सक्रियता दिखाई है. जबकि बीजेपी की राज्य में सोशल मीडिया पर भी कोई खास भागीदारी नहीं दिखाई दे रही है. जिसके चलते योगी के कंधे पर पार्टी हाईकमान ने गुजरात चुनाव की जिम्मेदारी डाली है. फिलहाल यूपी के सीएम को गुजरात में चुनाव प्रचार के लिए जल्दी ही रवाना होना है. लेकिन अभी यह तय नहीं हो सका है कि योगी कब गुजरात जायेंगे. बताया जाता है कि दो दिन के भीतर सीएम योगी का कार्यक्रम तय हो जायेगा. मालूम हो कि चुनाव आयोग ने संकेत दिए हैं कि गुजरात में दिसंबर में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं, क्योंकि वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल जनवरी के तीसरे सप्ताह में पूरा होने वाला है. मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) एके जोति ने कहा कि गुजरात में 50 हजार से अधिक मतदान केंद्रों पर मतदाता मतदान सत्यापन पर्ची (वीवीपीएटी) प्रणाली का प्रयोग होगा. इस प्रणाली का पहली बार इस्तेमाल इस साल गोवा चुनावों में किया गया था. उन्होंने कहा कि सभी 182 सीटों के एक-एक बूथ पर मतदान सत्यापन पर्ची की गणना की जाएगी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *