Breaking News

नोटबंदी के समर्थक रहे हैं अर्थशास्त्र का नोबेल जीतने वाले रिचर्ड थेलर

नई दिल्ली। इकनॉमिक्स का नोबेल पुरस्कार जीतने वाले रिचर्ड थेलर ने मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी का खुला समर्थन किया था। थेलर भारतीय इकॉनमी को नजदीक से फॉलो करते रहे हैं। 8 नवंबर 2016 को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था, तब थेलर ने ट्वीट कर कहा था वह ऐसे कदम का शुरू से हिमायती रहे हैं। हालांकि बाद में जब उन्हें पता चला कि सरकार ने 2000 रुपये का नोट भी जारी किया है, तो उन्होंने इसपर अफसोस जताया था। थेलर का नोटबंदी समर्थक होना इसलिए भी दिलचस्प है कि नोटबंदी के खिलाफ माने जाने वाले RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन भी नोबेल की दौड़ में शामिल थे।

8 नवंबर 2016 को जब भारत में नोटबंदी का ऐलान हुआ तो अमेरिकी अर्थशास्त्री थेलर ने ट्वीट किया, ‘यही वह नीति है जिसका मैंने लंबे समय से समर्थन किया है। कैशलेस की तरफ यह पहला कदम है और भ्रष्टाचार कम करने के लिए अच्छी शुरुआत।’ हालांकि उनके इसी ट्वीट का जवाब देते हुए किसी ने उन्हें बताया कि सरकार ने 2000 के नोट भी जारी करने का फैसला किया है, तो थेलर ने इसकी आलोचना भी की।

Loading...

This is a policy I have long supported. First step toward cashless and good start on reducing corruption. https://twitter.com/breakingmoney/status/796003317340106752 

सोमवार को जब थेलर को नोबेल पुरस्कार मिलने का ऐलान हुआ तो उनका नोटबंदी के समर्थन में किया गया उनका यह ट्वीट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। मोदी सरकार के समर्थकों ने इसे आलोचकों को जवाब बताया। नोबेल पुरस्कार विजेता थेलर प्रधानमंत्री मोदी की जनधन योजना का भी समर्थन करते रहे हैं। सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाले थेलर ने कैशलेस सिस्टम की शुरू से जोरदार वकालत की है। उनके हिसाब से भारत और ग्रीस जैसे देशों में कैश से मुक्ति बहुत जरूरी है तभी करप्शन से मुक्ति मिल सकेगी। वे इसके समर्थन में कई मौकों पर बोल भी चुके हैं।

बता दें कि नोटबंदी और जीएसटी को लेकर मोदी सरकार इन दिनों विपक्ष के हमले झेल रही है। विपक्ष का आरोप है कि नोटबंदी के चलते ही जीडीपी में गिरावट आई है। न सिर्फ विपक्ष बल्कि बीजेपी के ही वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी भी इस मुद्दे पर सरकार की आलोचना कर चुके हैं। हालांकि सरकार का मानना है कि नोटबंदी से देश का काफी फायदा हुआ है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने हाल ही में कहा था कि नोटबंदी के चलते कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों में भारी गिरावट आई है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *