Breaking News

जेएनयू देशद्रोह: खालिद, अनिर्बान से 5 घंटों तक पुलिस ने पूछे सवाल

umar kनई दिल्ली। देशद्रोह के आरोप झेल रहे जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य के साथ साउथ कैंपस पुलिस स्टेशन में पांच घंटों तक पूछताछ की गई। सूत्रों का कहना है कि दोनों स्टूडेंट्स के साथ बुधवार को भी पूछताछ की जाएगी। सूत्रों के मुताबिक दोनों को बुधवार को पहले मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा। पुलिस इस मामले की भी जांच कर रही है कि जेएनयू के किसी प्रफेसर ने इन स्टूडेंट्स को शरण तो नहीं दी थी क्योंकि ये कैंपस से गायब थे और अचानक दिखने लगे थे।

सीनियर वकील कामिनी जायसवाल ने कहा, ‘हमलोग इन दोनों को मैजिस्ट्रेट के पास पेश करेंगे। पुलिस इस बात को सुनिश्चित कर रही है कि इन्हें जब मैजिस्ट्रेट के पास पेश किया जाए तो भीड़ उग्र न हो। इनकी सुरक्षा पर गंभीरता के साथ काम हो रहा है।’

मंगलवार की रात 11:56 बजे एक नाटकीय घटनाक्रम में इन दोनों स्टूडेंट्स ने पुलिस दल के सामने अज्ञात स्थान पर सरेंडर किया। रात 12:03 बजे इन्हें बसंत कुंज पुलिस स्टेशन लाया गया और 12:26 बजे खालिद, अनिर्बान को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। इसके बाद इन्हें साउथ कैंपस पुलिस स्टेशन लाया गया। जब दिल्ली हाई कोर्ट ने इन्हें कोई राहत नहीं दी तो दोनों छात्रों ने सरेंडर करने का फैसला किया था।

Loading...

रात 1:08 बजे इनसे पूछताछ शुरू हुई और यह सुबह 5:04 बजे तक चली। 4:04 बजे इनके पास एम्स के तीन डॉक्टर पहुंचे और पुलिस स्टेशन पर इनका मेडिकल टेस्ट लिया गया। खालिद और भट्टाचार्य के साथ पांच स्टूडेंट्स पर जेएनयू कैंपस में देश विरोधी नारे लगाने के आरोप हैं। जेएनयूएसयू प्रेजिडेंट कन्हैया कुमार पर भी इसी तरह के नारे लगाने के आरोप हैं। आरोप ही इन छात्रों ने जेएनयू कैंपस में 2001 में संसद पर आतंकी हमले में दोषी करार दिया गया अफजल गुरु की फांसी की बरसी पर प्रोग्राम का आयोजन किया था। इसी प्रोग्राम में भारत विरोधी नारे लगाए जाने के आरोप हैं।

कन्हैया कुमार, खालिद, भट्टाचार्य के अलावा रामा नागा, आशुतोष कुमार और अनंत प्रकाश पर देशद्रोह के आरोप हैं। सूत्रों का कहना है कि अन्य तीन स्टूडेंट भी जल्द ही सरेंडर कर सकते हैं। दिल्ली पुलिस ने 20 फरवरी को खालिद, भट्टाचार्य, नागा, आशुतोष और प्रकाश के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया था।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *