Breaking News

विसर्जन विवाद पर बोलीं ममता- अगर ये तुष्टिकरण है तो जब तक जिंदा हूं ऐसा करती रहूंगी

कोलकाता। दुर्गा पूजा के बाद मूर्ति विसर्जन और मोहर्रम के जुलूस का समय निर्धारित करने को लेकर विरोधियों के निशाने पर आईं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने जमकर पलटवार किया.

मूर्ति विसर्जन और मोहर्रम जुलूस को लेकर ममता सरकार ने जो व्यवस्था बनाई है उसे लेकर कलकत्ता हाईकोर्ट में आज फैसला आना है लेकिन उससे पहले ममता बनर्जी ने दक्षिण कोलकाता के पॉम एवेन्यू में एक पूजा पंडाल में अपने भाषण में विरोधियों पर जमकर हमला बोला.

हिंदुस्तानटाइम्स.कॉम की खबर के मुताबिक ममता ने कहा कि जब मैं दुर्गा पूजा या गणेश उत्सव का शुभारंभ करती हूं तो तुष्टिकरण का आरोप नहीं लगता लेकिन ईद की नमाज अदा कर लूं तो विरोधी ऐसा आरोप लगाने लगते हैं.

Loading...

ममता ने कहा कि अगर ये तुष्टिकरण है तो मैं जब तक जीवित हूं, ऐसा करती रहूंगी. अगर कोई मेरे माथे पर गन भी रख दे तब भी मैं यही करूंगी. मैं किसी से भेदभाव नहीं करती. ये बंगाल की संस्कृति है, ये मेरी संस्कृति है.

गौरतलब है कि बीजेपी और दक्षिणपंथी संगठन ममता बनर्जी पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाते रहते हैं. ये मामला तब और बढ़ गया जब ममता सरकार ने 30 सितंबर को मूर्ति विसर्जन पर रोक लगा दी क्योंकि इस दिन मुहर्रम भी है. कई लोग इसे मूल अधिकारों का उल्लंघन कह रहे हैं और अब ये मामला कोर्ट में है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *