Wednesday , November 25 2020
Breaking News

सीरिया: IS की बमबारी में 140 लोग मारे गए

damiskदमिश्क। अमेरिका की ओर से संघर्ष विराम के प्रयास किए जाने के बीच सीरिया में आईएस द्वारा किए गए बम धमाकों में कम से कम 140 लोगों की मौत हो गई। अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने कहा कि संघर्ष विराम की शर्तों को लेकर अंतरिम समझौते पर सहमति बन गई है। ब्रिटेन आधारित सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स ने कहा कि अल-जहारा जिले में दोहरे कार बम हमले में कम से कम 57 लोगों की मौत हो गई।

सरकारी मीडिया और निगरानी संस्थाओं ने इसकी पुष्टि की है। सरकारी मीडिया के मुताबिक, दमिश्क के दक्षिणी शहर सैय्यदा जैनब में कम से कम चार विस्फोट हुए जिनमें 83 लोग मारे गए। इससे पहले एक निगरानी संस्था ने बताया कि होम्स में हुए दोहरे कार बम विस्फोट में 57 लोग मारे गए जिनमें ज्यादातर आम नागरिक थे। अपने आप को इस्लामिक स्टेट कहने वाले चरमपंथी संगठन ने दोनों शहरों में हुए इन हमलों की जिम्मेदारी ली है।

रविवार को हुए इन दोनों हमलों में इस्लामिक स्टेट ने मुस्लिम अल्पसंख्यक समुदाय को अपना निशाना बनाया। दमिश्क का सैय्यदा जैनब शिया मुसलमानों में सबसे पवित्र माना जाने वाला स्थल है। होम्स में विस्फोट अलावियों के जिले में हुए। ये इस्लाम का वो पंथ है जिसका पालन राष्ट्रपति बशर अल-असद करते हैं। इन विस्फोटों के बावजूद अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने संभावित युद्ध विराम के बारे में सकारात्मक बातें कीं।

Loading...

जॉन केरी ने कहा कि उनकी बातचीत रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव से हुई है और दोनों युद्धविराम की शर्तों पर सहमत हो गए हैं। हालांकि अभी इन पर विस्तार से चर्चा होना बाकी है। फरवरी की शुरुआत में सीरिया में चल रहे संघर्ष में शामिल दुनिया के ताकतवर देशों में ये सहमति बनी थी कि वो इस युद्ध को खत्म करने की दिशा में काम करेंगे।

लेकिन पिछले शुक्रवार तक निश्चित की गई समयसीमा गुजर चुकी है और इस बारे में कोई ठोस फैसला नहीं किया गया है। उधर राष्ट्रपति असद ने स्पेन के एक अखबार को दिए इंटरव्यू में कहा कि उन्हें उम्मीद है कि उन्हें एक ऐसे नेता के तौर पर याद किया जाएगा जिसने सीरिया की ‘रक्षा की’।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *