Breaking News

प्रद्युम्न मर्डर केसः रेयान स्कूल के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

मुंबई। बंबई उच्च न्यायालय ने रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है. साथ ही हाई कोर्ट ने पिंटो परिवार को शुक्रवार की शाम तक अपने-अपने पासपोर्ट मुंबई पुलिस के पास जमा कराने का आदेश दिया है. प्रद्युम्न की हत्या के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए रेयान स्कूल के मालिकों ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी.

बंबई उच्च न्यायालय ने गुरुवार को रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए अग्रिम जमानत देने से साफ इनकार कर दिया. साथ ही हाई कोर्ट ने उन सभी को शुक्रवार की शाम तक अपने पासपोर्ट मुंबई पुलिस के पास जमा कराने का फरमान भी सुनाया है.

हाई कोर्ट ने पिंटो परिवार को कल शाम पांच बजे तक की राहत दी है. जिसके बाद रेयान परिवार के वकील ने कहा कि वे देखकर को कोर्ट को अवगत कराएंगे कि स्कूल के सभी ट्रस्टी मुंबई में मौजूद हैं भी या नहीं. साथ ही उन सभी के पासपोर्ट मुंबई पुलिस के आयुक्त के हवाले किए जाने हैं. जिसके लिए शुक्रवार की रात 9 बजे तक का समय कोर्ट ने निर्धारित किया है.

बताते चलें कि प्रद्युम्न मर्डर केस में रेयान इंटरनेशनल स्कूल मैनेजमेंट पर हरियाणा पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. इसी बीच बॉम्बे हाई कोर्ट ने पिंटो फैमिली की अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्हें गुरुवार तक की राहत दी थी. इससे पहले मंगलवार को भी हाई कोर्ट ने उन्हें एक दिन की राहत दी थी. जिसके तहत ग्रेस पिंटो, ऑगस्टीन पिंटो और रेयान पिंटो को फौरी राहत मिल गई थी.

उधर, प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि वे पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं हैं. अभी तक इस सवाल का जवाब नहीं मिला है कि बस कंडक्टर के पास चाकू कहां से आया. वह बाथरूम में चाकू साफ करने क्यों गया था.

Loading...

मृतक प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर बॉम्बे हाईकोर्ट में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका के विरोध में अर्जी दाखिल करेंगे. वह कोर्ट में अर्जी देकर अनुरोध करेंगे कि इस मामले में पिंटू फैमली की जमानत याचिका खारिज की जानी चाहिए. इससे पहले वरुण ने सीबीआई जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में भी याचिका दी थी.

इस मर्डर केस की जांच कर रही गुरुग्राम पुलिस की एक टीम मुंबई पहुंची हुई है. रेयान ग्रुप के हेडक्वार्टर पर पुलिस जांच जारी है. ऐसे मालिकों को अपनी गिरफ्तारी का डर सता रहा है. गुरुग्राम के स्कूल में हुई जानलेवा लापरवाही ने रेयान के दूसरे स्कूलों में भी लापरवाहियों का पिटारा सा खोल दिया है.

जानिए, क्या है पूरा मामला

बताते चलें कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. इस मामले में बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपी अशोक कुमार ने अपना जुर्म कबूल कर लिया था.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *