Breaking News

रेप पीड़ित महिला से रुपयों की मांग कर रहा दारोगा

UP-Policeबरेली।जनपद के शाही थाने में तैनात पुलिसकर्मियों की करतूतों से समूचे महकमे पर एक फिर दाग लगा है। इस बार शाही थाने के एक दारोगा की कारस्तानी मोबाइल फोन में रिकॉर्ड कर हुई है। कार्रवाई करने के लिए वह रेप पीड़ित महिला से रुपयों की मांग कर रहा है। शाही थाने का यह मामला इसलिए और ज्यादा चर्चा में है क्योंकि इसी थाने की दुनका चौकी के दारोगा-सिपाही का एक ऑडियो चार दिन पहले वायरल हुआ था। प्रतिबंधित पशु पकड़ने पर दोनों के बीच गालियों की बौछार हो रही थी, उस मामले में एसएसपी ने दारोगा और सिपाही दोनों को सस्पेंड कर दिया, इस बीच शाही थाने का ही एक ऑडियो सामने आ गया।
 
शाही थाना क्षेत्र की महिला को डेढ़ महीने पहले कुछ लोगों ने अगवा करके सामूहिक दुष्कर्म किया था। थाने में कई बार शिकायत के बाद भी महिला कि रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई तो उसने कोर्ट की शरण ली। कोर्ट ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश थाना पुलिस को दिए, इसके बावजूद रिपोर्ट नहीं दर्ज की गई।
ऑडियो में दारोगा ने महिला व उसके पति से कहा कि प्रधान व प्रभावशाली लोग तुम्हारे खिलाफ है। 15-20 हजार रुपयो का इंतजाम करो फिर हम तुम्हे रास्ता बताएंगे और रिपोर्ट दर्ज कर लेंगे। दुष्कर्म करने वाले दबंगो के डर से पीडित परिवार ने गांव छोड दिया है। अब वे लोग मीरगंज में रहने लगे है।
ऑडियो से मचा हडकंप
शनिवार को दुनका चौकी के दारोगा अनवर खलील और सिपाही भारत सिंह के बीच गाली-गालौज का ऑडियो वायरल हुआ था, कप्तान ने इसे गंभीरता से लिया और दोनों को सस्पेंड कर दिया।इसके महज एक दिन बाद ही एक अन्य ऑडियो वायरल होने से पुलिस मे हडकंप मचा हुआ है।
वायरल हुआ बातचीत का ऑडियो
वादी- नमस्कार साहब, आप कहां पर है इस समय
 
दारोगा- थाने में है, आओ
 
वादी- हां तो आप बताओ, कैसे आंए हम
 
दारोगा- तो आजा यहीं और कैसे आऊ क्या
 
वादी- आप ये बताओ कितने पैसे लाऊ
 
दारोगा- ले आ, जितने लाने हैं
 
वादी- आप बताओ, मैं दस ले आऊ क्या
 
दारोगा- दस-बीस हजार ले आ, आ तो जा
 
वादी- ठीक है साहब
 
दारोगा- आजा जल्दी, फिर मैं जाऊगा, बता दूंगा तुझे तेरे पीछे पडे है, फिर में बताऊगा, जल्दी आ जा मैं 15 मिनट थाने में ही हूं,
 
वादी- अच्छा ठीक है, मेरी बीबी से बात कर लो आप
 
महिला- हैलो
 
दारोगा- देखो ऐसा है, तुम्हारे पीछे बहुत पड़े है, अरधान-प्रधान, सब गांव वाले, तुम साले प्रधान के खिलाफ एक दरख्वास्त दो,
 
महिला- नहीं
 
दारोगा- अरे ये सब तुम्हारे खिलाफ है, ये तुझे बंद कराना चाहते है, इसे कह दो चला जाए वहां फतेहगंज पश्चिमी जहां नौकरी करता था, फिर मैं तरकीब बता दूंगा, भिजवा दो थाने, नौकरी करे जाके, इसके खिलाफ प्रधान ने दरख्वास्त दी है, 156 डलवाऊंगा….के खिलाफ,
 
महिला- अच्छा, कितना रुपये चाहिये तुम्हे,
 
दारोगा- अरे, भिजवा दे जितना है,
 
महिला- अच्छा
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *