Breaking News

जयपुरः पुलिस और स्थानीय लोगों में हिंसक झड़प के बाद रामगंज इलाके में कर्फ्यू, मोबाइल इंटरनेट बंद

जयपुर। शहर के रामगंज थाना क्षेत्र में कल देर रात दंगा भड़कने के बाद रामगंज समेत चार इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। जानकारी के मुताबिक मामूली बात को लेकर शुक्रवार को यहां स्थानीय लोगों और पुलिस के बीच झड़प हो गई जिसके बाद कई वाहनों में आग लगा दी गई। भीड़ ने पावर हाउस को भी आग के हवाले कर दिया और कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की। इसके बाद यहां तनाव की स्थिति को देखते हुए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं और कर्फ्यू लगा दिया गया है।

स्थानीय लोगों के मुताबिक रामगंज में चौराहे के पास ठेला हटवाने की कोशिश करने के दौरान बाइक पर जा रहे कपल को पुलिस का डंडा लग गया। इसके बाद कहासुनी शुरू हुई जो हिंसा में तब्दील हो गई। गुस्साई भीड़ ने थाने में घुसने की भी कोशिश की। घटना में कई पुलिसवाले घायल हो गए हैं और 1 व्यक्ति की मौत की भी खबर है। भीड़ ने कई पुलिस के वाहनों के साथ अन्य को भी नुकसान पहुंचाया।

बता दें कि तनाव बढ़ता देख कर पुलिस को अतिरिक्त फोर्स की मदद लेनी पड़ी। इसी बीच भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया जिसमें कई पुलिसकर्मी बुरी तरह से जख्मी हो गए। इस दौरान पुलिस की ओर से फायरिंग की सूचना भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें एक युवक के मारे जाने की बात कही जा रही है। हालांकि इस वायरल सूचना की अभी तक कोई पुष्टि नहीं हो सकी है।

रामगंज में वाहनों को आग के हवाले की खबर के तुरंत बाद वहां दमकल की पांच गाड़ियां पहुंच गईं। जल्द ही आग बुझाने का काम शुरू कर दिया गया लेकिन तब तक वाहन जलकर खाक हो चुके थे। वहीं पुलिस कमिश्नर संजय अग्रवाल मौके पर पहुंचे और लोगों से शांति की अपील की।

थाने का घेराव करने के बाद उग्र भीड़ ने आगजनी और पथराव शुरू कर दिया तो पुलिस के हाथ पांव फूल गए। आनन-फानन में भीड़ को वहां से हटाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। भीड़ को खदेड़ने के लिए हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा लेकिन तब तक पुलिस के कई जवान पत्थरबाजों के हाथों जख्मी हो चुके थे।

Loading...

भीड़ जब हिंसा पर उतर आई तो पुलिस ने लाठीचार्ज के साथ आंसू गैस का इस्तेमाल किया। लाठीचार्ज में स्थानीय लोग भी घायल हुए हैं। इलाके में पुलिसबल तैनात है और कर्फ्यू लगा दिया गया है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *