Breaking News

न्यू इंडिया को टारगेट करने के लिए मोदी का कैबिनेट तैयार लेकिन बड़ा सवाल यही कि रक्षा और रेल मंत्री कौन

मोदी कैबिनेट में फेरबदल- नकवी, सीतारमण, धर्मेंद्र प्रधान और पीयूष गोयल का प्रमोशन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कैबिनेट में रविवार को होने जा रहे तीसरे फेरबदल में 13 मंत्रियों के शपथ लेने की संभावना है. जी मीडिया के सूत्रों के मुताबिक शपथ लेने वालों में 9 नए चेहरों के साथ चार पुराने चेहरे भी शामिल है. खबर है कि इन चार मंत्रियों का प्रमोशन किया जा रहा है. प्रमोशन पाने वालों में मुख्तार अब्बास नकवी, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान का नाम शामिल है.आपको बता दें कि तीन साल में तीसरी बार पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट में फेरबदल होने जा रहा है. 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले इसको मोदी मंत्रिमंडल का अंतिम बड़ा विस्‍तार कहा जा रहा है. राष्ट्रपति भवन के अशोका हॉल में शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी पूरा हो चुकी है. थोड़ी देर में शपथ ग्रहण शुरू होने वाला है. मोदी कैबिनेट के मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता समारोह के लिए पहुंच चुके है.

–  1974 बैच के आईएफएस अधिकारी हरदीप सिंह पुरी ने भी आज राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली. 65 साल के पुरी किसी भी सदन के सदस्य नहीं है. पुरी यूएन में भारत के स्थाई प्रतिनिधि रह चुके है.

– आरके सिंह ने भी आज मोदी कैबिनेट में राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली. बिहार के आरा के सांसद आरके सिंह को सुपर कॉप के रूप में जाना जाता है. आरके सिंह पूर्व आईपीएस अधिकारी है. वह भारत के गृह सचिव रहे है.

– अनंत कुमार हेगड़े ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली. 49 साल के हेगड़े कर्नाटक से बीजेपी के सांसद है.

– मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ से बीजेपी के सांसद डॉ वीरेंद्र कुमार ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली. 63 साल के वीरेंद्र कुमार बीजेपी में दलित नेता के रूप में जाने जाते है.

– शिव प्रसाद शुक्ल के बाद बिहार के बक्सर से बीजेपी सांसद अश्विनी कुमार चौबे ने राज्य मंत्री के रूप में शपथ ली.

– राज्य मंत्री के रूप में सबसे पहले शपथ लेने वालों में शिव प्रसाद शुक्ल ने शपथ ली. शिव प्रसाद शुक्ल यूपी से राज्य सभा सदस्य है.

– कैबिनेट में प्रोमोशन पाने वाले मंत्रियों के शपथ ग्रहण के बाद राज्य मंत्री के रूप में नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण हुआ.

– मुख्तार अब्बास नकवी ने भी आज कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली. मुख्तार अब्बास नकवी इससे पहले अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में कार्यरत थे.

– निर्मला सीतरमण ने भी आज मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली. इससे पहले निर्मला सीतारमण उद्योग मंत्रालय में राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार का कामकाज देख रहीं थीं.

– धर्मेंद्र प्रधान के बाद पीयूष गोयल ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली. पीयूष गोयल इससे पहले उर्जा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) थे.

– सबसे पहले धर्मेंद्र प्रधान ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली. इससे पहले धर्मेंद्र प्रधान पेट्रोलियम मंत्री (स्वतंत्र) के रूप में मोदी कैबिनेट में काम कर रहे थे. ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी ने धर्मेंद्र प्रधान के काम को देखते हुए उन्हें प्रमोट किया है.

Loading...

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शपथ ग्रहण के कुछ देर पहले अशोक हॉल पहुंचे. शपथ ग्रहण समारोह के दौरान पहली पंक्ति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह बैठे.

राष्ट्रपति भवन में होने वाले शपथ ग्रहण के लिए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मुख्तार अब्बास नकवी से मुलाकात की. आज होने वाले शपथ ग्रहण के लिए बिहार में बीजेपी की सहयोगी जेडीयू को न्योता नहीं मिला है. वहीं महाराष्ट्र में बीजेपी सहयोगी शिवसेना ने भी शपथ ग्रहण में समारोह में दूरी बनाई हुई है.

Union Ministers Ravi Shankar Prasad and Mukhtar Abbas Naqvi at the Oath taking ceremony in Rashtrapati Bhavan 

इससे पहले आज सुबह प्रमोशन पाने वाले मंत्रियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास 7 लोक कल्याण मार्ग जाकर उनसे मुलाकात की. पीएम मोदी ने आज शपथ ग्रहण से पहले में नए मंत्रियों से नाश्ते पर मुलाकात की. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी पीएम मोदी से मिलने पहुंचे. मोदी कैबिनेट में इस बार ऐसे चेहरों को तरजीह दी जा रही है जिन पर पीएम मोदी के ‘न्‍यू इंडिया’ के सपने को साकार करने के लिए सरकार के एजेंडे और नीतियों को जमीनी हकीकत में बदलने का दारोमदार होगा. इस कड़ी में सूत्रों के मुताबिक माना जा रहा है कि पीएम मोदी ने 5पी यानी प्रोग्रेस (विकास), पैशन (जुनून), प्रोफिशिएंसी (निपुणता), प्रोफेशनल एक्‍युमेन (पेशेवर अनुभव) और पॉलिटिकल एक्‍युमेन (राजनीतिक समझ) फॉर्मूले के आधार पर नए मंत्रियों को चुना है. आइए इस संदर्भ में मंत्रिमंडल विस्‍तार से जुड़ी 5 अहम बातों पर डालें एक नजर:

1. तीन रिटायर्ड नौकरशाहों और एक पूर्व सुपर कॉप को कैबिनेट में जगह मिलेगी. इनमें से सत्‍यपाल सिंह मुंबई के पुलिस कमिश्‍नर रह चुके हैं और इस वक्‍त यूपी में बागपत से लोकसभा सदस्‍य हैं. हरदीप सिंह पुरी राजनयिक, केजे अल्‍फोंस आईएएस और आरके सिंह केंद्रीय गृह सचिव रह चुके हैं.

2. बिहार से बीजेपी सांसद अश्विनी कुमार चौबे और यूपी से राज्‍यसभा सदस्‍य शिव प्रताप शुक्‍ला मंत्री पद की शपथ लेंगे. निकट भविष्‍य में जिन राज्‍यों में विधानसभा चुनाव होना है, उन राज्‍यों से वीरेंद्र कुमार (मध्‍य प्रदेश), अनंत कुमार हेगड़े (कर्नाटक) और गजेंद्र सिंह शेखावत (राजस्‍थान) शपथ लेंगे.

3. नीतीश कुमार की जदयू, तमिलनाडु की सत्‍तारूढ़ अन्‍नाद्रमुक और शिवसेना की तरफ से नए मंत्रियों के शामिल होने की संभावना नहीं है. हालांकि पहले माना जा रहा था कि जदयू की तरफ से दो मंत्री शपथ लेंगे. लेकिन शनिवार को नीतीश कुमार ने कहा कि उनको कैबिनेट विस्‍तार के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी यही बात कही. अन्‍नाद्रमुक का आंतरिक संकट मुख्‍य रूप से सरकार में शामिल होने की राह में रोड़ा माना जा रहा है.

4. कई मंत्रियों को बेहतर कामकाज की वजह से प्रमोशन मिलने की उम्‍मीद है. इनमें से सूत्रों के मुताबिक वाणिज्‍य मंत्री निर्मला सीतारमण, ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को कैबिनेट रैंक का दर्जा मिल सकता है. अभी ये स्‍वतंत्र प्रभार राज्‍यमंत्री हैं. सूत्रों के मुताबिक कई मंत्रियों के विभागों को भी बदला जा सकता है

5. उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले छह मंत्रियों राजीव प्रताप रूडी, संजीव बालयान, फग्‍गन सिंह कुलस्‍ते, कलराज मिश्रा, महेंद्र नाथ पांडे और बंडारू दत्‍तात्रेय ने इस्‍तीफा दे दिया. इनमें से कुछ को 2019 के लोकसभा चुनावों के लिहाज से पार्टी संगठन में जिम्‍मेदारी मिलने की बात कही जा रही है. महेंद्र नाथ पांडे को पहले ही यूपी बीजेपी का चीफ बनाया जा चुका है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *