Breaking News

खुलासा: AAP के मोहल्ला क्लीनिक में पैसों की लूट, दिया जा रहा है बेहिसाब किराया

नई दिल्ली। मोहल्ला क्लीनिक को लेकर आम आदमी पार्टी और दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच तनातनी चल रही है. विजिलेंस विभाग मोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी अनियमितता की जांच कर रही है. एक न्यूज चैनेल की पड़ताल में खुलासा हुआ है कि कुछ मोहल्ला क्लीनिक का किराया उस मोहल्ले के औसत किराए से ज्यादा है.

दिल्ली का विजिलेंस विभाग कर रहा है धांधली की जांच 

दिल्ली में आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक वैसे तो दिल्ली वालों की सुविधाओं के लिए बनाया गया है, लेकिन अभी मोहल्ला क्लीनिक की हालत ही ठीक नहीं है. इसमें धांधली की जांच दिल्ली का विजिलेंस विभाग कर रहा है. विजिलेंस की जांच का दायरे में दो मुख्य आरोप हैं.

पार्टी कार्यकर्ताओं के परिसर किराए पर क्यों लिए गए? 

परिसर का किराया बाजार किराए से ज़्यादा क्यों है? पार्टी कार्यकर्ताओं के परिसर किराए पर क्यों लिए गए? इन्हीं सवालों के बाद न्यूज़ चैनेल ने कुछ मोहल्ला क्लीनिक की पड़ताल की. दिल्ली के विकास विहार इलाके के मोहल्ला क्लीनिक के लिए दो कमरों का औसत किराया पता किया तो वो साढ़े पांच हजार रुपये था. लेकिन मोहल्ले के किराए से करीब साढ़े 12 हजार ज्यादा किराया दिया जा रहा है.

Loading...

mohalla clinic aap

किराए का खेल दिल्ली के टोडापुर इलाके में बने मोहल्ला क्लीनिक में भी देखने को मिला. इस इलाके में दो कमरों का औसत किराया साढ़े सात हजार है, लेकिन दिल्ली सरकार इस जगह के लिए दोगुना करीब 15 हजार रुपये देती है.

 औसत से दूगना-तिगना दिया जा रहा है किराया

जांच में पश्चिम विहार का एक मोहल्ला क्लीनिक आप के ट्रेड विंग के नेता संजय अग्रवाल के मकान में मिला. यहां पर औसत किराया आठ हजार रुपये है. जबकि मोहल्ला क्लीनिक के लिए सरकार 20 हजार रुपये किराया देती है. इंद्रा पार्क इलाके में पूर्वांचल सेल के सचिव उमेश शर्मा के मकान में मोहल्ला क्लीनिक चलता है, जिसके विए वो 15 हजार रुपये लेते हैं जबकि इलाके का किराया 6 हजार रुपये ही है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *