Thursday , November 26 2020
Breaking News

देश विरोधी गिरोह का नेता है कन्हैया कुमार: रिजिजू

kirenनई दिल्ली। जेएनयू विवाद को लेकर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा है कि इस पूरी घटना में कन्हैया कुमार की अहम भूमिका थी। उन्होंने कहा, ‘जेएनयू में देशविरोधी नारेबाजी को कन्हैया कुमार रोक सकता था, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। इस पूरे गिरोह का नेता वही था।’ अदालत में कन्हैया कुमार द्वारा खुद को देशभक्त बताए जाने को लेकर उन्होंने कहा कि यह लोग बेहद चालाक हैं, यूनिवर्सिटी में देश के खिलाफ नारे लगाते हैं और अदालत में कुछ और बयान देते हैं।
रिजिजू ने कहा कि जो यहां अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर देश के टुकड़े करने की बात कर रहे हैं, उन्हें सीमांत इलाकों में जाकर देखना चाहिए। वहां लोग तमाम मुश्किलों के बाद भी देश की सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं। रिजिजू ने कहा कि अफजल गुरु के समर्थकों पर सख्ती जरूरी है। उन्होंने कहा कि यह आतंकी हाफिज सईद की भाषा है, जो अफजल को क्रांतिकारी कहता है और भारत के टुकड़े करने की बात करता है।

कन्हैया की गिरफ्तारी को लेकर सबूतों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पुलिस ने कार्रवाई गलत काम के लिए ही की है। कन्हैया पर देशद्रोह का मुकदमा लगाए जाने की समीक्षा किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि समीक्षा का सवाल ही पैदा नहीं होता। रिजिजू ने कहा कि मेरे गांव से फोन आ रहे हैं कि हम यहां सीमा पर दिन रात भारत जिंदाबाद करते हैं और कुछ लोग देश को बर्बाद करने की बात कर रहे हैं, वह भी देश की राजधानी में बैठकर। किसी भी देश में यह मंजूर हो ही नहीं सकता।

रिजिजू ने कहा कि आप लोग पश्चिमी देशों की बात करते हैं, आप कहते हैं कि अमेरिका में बहुत आजादी है, लेकिन वहां भी आप किसी यूनिवर्सिटी में राष्ट्रविरोधी जुलूस नहीं निकाल सकते। ऐसी बात नहीं कर सकते, हिम्मत है तो करके दिखाएं। हालांकि जेएनयू को बंद करने के बयानों पर उन्होंने कहा, ‘जेएनयू को बंद करने का सवाल पैदा नहीं होता, लेकिन भारत विरोधी तत्वों का सफाया करने की जरूरत है। इसी तरह के लोग है, जो जेएनयू को बर्बाद कर रहे हैं। यह बहस का विषय नहीं है, जो देश के खिलाफ काम करेगा, उसके लिए कानून बना है।’

दिल्ली पुलिस की ओर से कन्हैया की जमानत का विरोध न किए जाने की बात को लेकर कहा रिजिजू ने कहा कि कानून के मुताबिक बेल किसी का भी हक है। जेएनयू कैंपस में नारेबाजी करने वाले उमर खालिद और अन्य आरोपी छात्रों की गिरफ्तारी को लेकर रिजिजू ने कहा कि पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है, जल्दी ही इन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Loading...

नाटकबाज हैं राहुल गांधी

जेएनयू मुद्दे पर राहुल गांधी के राष्ट्रपति से मिलने को लेकर किरेन रिजिजू ने कहा कि उन्हें कोई भी गंभीरता से नहीं लेता। रिजिजू ने कहा कि कांग्रेस परिवारवादी पार्टी है, वह कोई काम करें या न करें कांग्रेसी तो उन्हें ही नेता मानेंगे। वह जो बात करते हैं, उससे कनेक्ट नहीं होते। उनकी बातों को लोग गंभीरता से नहीं लेते। कभी राष्ट्रपति के पास जाएंगे, कभी किसान के पास। वह नाटक करते हैं।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *