Breaking News

कच्चे तेल के दामों गिरावट से मुकेश अंबानी की कंपनी ‘कूट रही चांदी’

oil mukeshनई दिल्ली। कच्चे तेल की कीमतों में लगातार आ रही तेज गिरावट के चलते दुनिया भर के अरबपतियों को नुकसान हो रहा है। लेकिन, भारत के सबसे अमीर शख्स रिलायंस के मुखिया मुकेश अंबानी उनमें से नहीं हैं। दुनिया की सबसे बड़ी तेल रिफाइनिंग कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मालिक मुकेश अंबानी को तेल कीमतों में 30 डॉलर प्रति बैरल से नीचे की गिरावट के चलते खासा मुनाफा हो रहा है। शुक्रवार को जारी किए गए ब्लूमबर्ग के बिलिनियर्स इंडेक्स के मुताबिक मुकेश अंबानी की संपत्ति में 620 मिलियन डॉलर यानी करीब 4,188 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ है, वह 2016 में नंबर वन पर हैं।

वह दूसरे नंबर पर रहने वाली दिग्गज कंपनी वॉलमार्ट के मुकाबले पांच गुना आगे हैं। इस साल वॉलमार्ट की संपत्ति में अब तक 130 मिलियन डॉलर का इजाफा हुआ है। दुनिया के 400 सबसे अमीर लोगों में शुमार 13 भारतीय अरबपतियों में मुकेश अंबानी अकेले ऐसे कारोबारी हैं, जिनकी संपत्ति में इस साल इजाफा देखने को मिला है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक कच्चे तेल के दामों मे तेजी से गिरावट की वजह से मुकेश अंबानी की कंपनी को रिफाइनिंग के काम से बड़ा मुनाफा हो रहा है।

पिछले एक तिमाही में कच्चे तेल की कीमतों में 42 पर्सेंट तक की कमी हुई है। इसके चलते निवेशकों का आकर्षण रिफाइनिंग कंपनियों जैसे ब्लैकरॉक इंक से लेकर रिलायंस तक बढ़ा है। ब्लूमबर्ग वर्ल्ड ऑइल ऐंड गैस इंडेक्स के मुताबिक बीते तीन महीनों में मुकेश अंबानी की रिफाइनिंग कंपनी ने सबसे अच्छा परफॉर्म किया है।

Loading...

शेयरखान लिमिटेड से जुड़े मुंबई बेस्ड एनालिस्ट संजीव पांडा ने कहा, ‘रिफाइनिंग के मार्जिन में किसी भी तरह का इजाफा रिलायंस के प्रॉफिट को बहुत तेजी से बढ़ाएगा, जो भारत की सबसे बड़ी रिफाइनिंग कंपनी की मालिक है।’ पांडा के मुताबिक वैश्विक बाजार में तेल की कीमतों में गिरावट ने रिलायंस के शेयरों में उछाल लाने का काम किया है। कच्चे तेल के दामों में पिछले 18 महीनों में 70 पर्सेंट तक की कमी आई है, इसके बावजूद ओपेक देश आपसी समझौते से तेल उत्पादन की सीमा तय करने में नाकाम रहे हैं।

मंगलवार सुबह तेल के दाम 28 सेंट यानी एक पर्सेंट की उछाल के साथ 28.83 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर पहुंच गए। बीते सात सालों से अंडर-परफॉर्म कर रहे रिलायंस के शेयरों में 2015 में 14 पर्सेंट तक की उछाल देखी गई।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *