Tuesday , June 15 2021
Breaking News

……….अब PM मोदी का एक वार और खत्म हो सकता हैं मायावती का सियासी कैरियर

नई दिल्ली। दिल्ली में गुरुवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने सांसदों से स्पष्ट कहा कि जनता ने बहुमत काम करने के लिए दिया है, न कि आराम करने के लिए. मोदी ने सांसदों को सख्त संदेश देते हुए कहा कि न मैं बैठूंगा और न ही आप लोगों को बैठने दूंगा. मोदी ने सांसदों को 6 से 14 अप्रैल के बीच गंभीरता से काम करने के निर्देश भी दिए हैं.

सूत्रों की माने तो बैठक की शुरूआत में ही पीएम मोदी ने सांसदों से सवाल किया कि क्या वे पेन और पेपर लेकर आए हैं या नहीं. जवाब मिलने से पहले ही उन्होंने सख्ती से कहा कि जो नहीं लाए उनके लिए मैं कुछ नहीं कर सकता. उन्होंने सांसदों से 6 अप्रैल बीजेपी का स्थापना दिवस और 14 अप्रैल आंबेडकर जयंती की तारीखों को नोट करने के लिए कहा. मोदी ने कहा कि सभी सांसदों को इस हफ्ते के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर शक्ति केंद्र स्थापित करें.

मोदी ने सांसदों से कहा कि वे कार्यकर्ताओं के जरिए डिजिटल करेंसी और भीम एप के लिए जागरूकता फैलाने का काम करें. कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने का काम करें. छोटे दुकानदारों को भीम एप और डिजिटल ट्रांजेक्शन के तरीके इस्तेमाल करना सीखने में मदद करें.

मोदी के निर्देशों में स्पष्ट था कि 6 से 14 अप्रैल के दौरान जितनी भी सभाएं और रैलियां की जाएं उनमें बाबा साहब अंबेडकर की फोटो को प्रमुखता से जगह दी जाए. सांसद ध्यान दें कि इन सभी कार्यक्रमों में सरकार की योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने का काम गंभीरता से किया जाए.

मोदी ने मीटिंग में कहा कि हर सांसद और पार्टी कार्यकर्ता को 6 अप्रैल के दिन ‘स्वच्छ भारत अभियान’ को प्रमोट करने के लिए कार्यक्रम आयोजित करने होंगे.

Loading...

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि 26 मई पर सरकार के 3 साल पूरा होने के मौके पर सभी सांसद अपना एक्शन प्लान पेश करेंगे कि आने वाले 2 सालों और भविष्य में उनकी क्या योजनाएं हैं. मोदी ने कहा कि बीजेपी की यूपी में ऐतिहासिक जीत पर विनम्र बनें रहना है क्योंकि जिस पेड़ पर फल लग जाते हैं वो झुक जाता है.

पीएम मोदी ने सांसदों की इसके लिए तारीफ की कि प्रचार के दौरान उन्होंने सावधानी रखी और अनचाहे बयान नहीं दिए. पीएम ने साफ कहा कि जनादेश काम करने के लिए मिला है, इसलिए बीजेपी सांसद युवाओं के पास बड़े पैमाने पर जाएं और सरकार के मोबाइल और शिक्षण संस्थानों के जरिए हो रहे कामों को प्रचारित करें.

बैठक में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड समेत गोवा और मणिपुर में सरकार बनने पर जश्न मनाया गया. बैठक के दौरान जैसे ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए, उनका स्वागत तालियों से किया गया. बैठक में पीएम मोदी, अमित शाह, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह और वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी समेत पार्टी के तमाम दिग्गत नेता मौजूद रहे. इस बैठक के लिए बीजेपी संसदीय दल ने खासी तैयारियां की थी. इसके लिए खास तौर से तिरुपति से लड्डू भी मंगवाए गए.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *