Breaking News

EVM विवाद: केजरीवाल का आरोप, ‘AAP के वोट BJP-अकाली को ट्रांसफर हुए’

नई दिल्ली।  बसपा सुप्रीमो मायावती के बाद अब केजरीवाल और तकरीबन मोदी विरोधी सभी पार्टियां ईवीएम पर हार का ठीकरा फोड़ रही हैं. आज दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद ईवीएम पर सवाल उठाए हैं. केजरीवाल ने कहा है कि उन्हें शक है कि ईवीएम में आप के वोट ट्रांसफर हुए हैं.

ईवीएम पर सवाल उठाते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘’इस चुनाव में कांग्रेस को 38.5 फीसदी, अकाली को 30.6 फीसदी आप और लोक इन्साफ को 24.9 फीसदी वोट मिले है. लेकिन अकाली को 30 फीसदी वोट कैसे मिले ? उन्हें तो 5 फीसदी वोट ही मिलने चाहिए थे.’’ केजरीवाल ने कहा, ‘’पंजाब के लोग अकाली दल को हराना चाहते थे.’’

का भी रिकॉर्ड टूटेगा. चुनाव के वक़्त यह कहा गया, आप मालवा जीत रही है जिसपर किसी को शक नहीं था, कांग्रेस माझा स्वीप कर रही है और दोआबा में टक्कर है. बावजूद इसके नतीजे उलट हुए हैं.’’

केजरीवाल ने कहा, ‘’केजरीवाल ने कहा, “पंजाब में 32 स्थानों पर (वोटर-वेरिफाइड पेपर ऑडिट ट्रेल) वीवीपीएटी स्थापित किए गए थे. हम (निर्वाचन आयोग से) वीवीपीएटी के विवरण की ईवीएम के विवरणों से मिलान करने की मांग करते हैं. ईवीएम के साथ छेड़छाड़ करके हमारे 20-25 प्रतिशत वोट शिरोमणी अकाली दल-भाजपा गठबंधन के खाते में कर लिए गए.”

केजरीवाल ने कहा, ‘’पंजाब में सबको आम आदमी पार्टी की आंधी दिख रही थी. सब कह रहे थे कि आम आदमी पार्टी जीत रही है फिर भी पार्टी को कम वोट मिले.’’ उन्होंने बूथ नंबर 73 का एक उदाहरण देते हुए कहा, ‘’इस बूथ पर हमें सिर्फ तीन वोट मिले हैं. जबकि यहां तो हमारे सात वॉलंटियर हैं. जिनके 17 परिवार वाले हैं. उनके वोट कहां गए.वहीं, खेमकरण में नौ कार्यकर्ता हैं. वहां हमें केवल पांच वोट मिले हैं ? इसका जवाब कहां है? यह वोट कहां गए?’’

केजरीवाल ने कहा, ‘’हमने बूथ समीक्षा की तो यह गड़बड़ी सामने आई है. हमारी हार समझ से परे हैं. अगर ऐसा होता रहा तो जनता का ईवीएम पर से विश्वास उठ जाएगा.’’ उन्होंने कहा, ‘’ महाराष्ट्र में सिविक पोल्स में एक सीट पर एक निर्दलीय को कोई वोट नहीं मिला, यह कैसे हुआ, उसका खुद का वोट कहां गया, उसकी बीवी का वोट कहां गया. ईवीएम की जगह अब कुछ और सोचना पड़ेगा.’’

Loading...

उन्होंने उत्तराखण्ड, यूपी में भी ईवीएम से छेड़छाड़ होने पर शक जताया. केजरीवाल ने कहा, ‘’उत्तराखण्ड, यूपी और पंजाब में शक है कि ईवीएम से छेड़छाड़ की गई है. पंजाब में आप के 20 से 25 फीसदी वोट अकाली बीजेपी को ट्रांसफर हो गए जिसकी वजह से कांग्रेस जीत गई.’’

केजरीवाल ने कहा, ‘’कई देशों में ईवीएम को बैन कर दिया है, क्योंकि उन्हें भी लगा की ईवीएम से छेड़छाड़ होती है. 2014 के पहले तक बीजेपी खुद ईवीएम का विरोध करती थी. अडवाणी जी ने भी विरोध किया था.’’

बता दें कि केजरीवाल की पार्टी ने अगले महीने होने वाले एमसीडी चुनाव में ईवीएम की जगह बैलेट के इस्तेमाल की मांग की है, लेकिन चुनाव आयोग ने लगभग उनकी ये मांग ठुकरा दी है.

अरविंद केजरीवाल की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही मुख्य बातें –

  • केजरीवाल ने पंजाब के नतीजों पर उठाए सवाल
  • ‘सब कह रहे थे कि AAP बहुत अच्छा करेगी’
  • ‘AAP मालवा में आगे सब कह रहे थे’
  • ‘बावजूद मालवा में सारी सीटें कांग्रेस को मिली’
  • ये चीज़ें समझ से परे है:अरविंद केजरीवाल
  • पंजाब के चुनाव नतीजों पर उठाए सवाल
  • नतीजों का बूथ के हिसाब से परीक्षण किया
  • कहीं EVM के ज़रिए AAP का वोट ट्रांस्फर तो नहीं?
  • EVM के ज़रिए वोट बीजेपी-अकाली को?’
  • ‘अगर EVM से गड़बड़ तो चुनाव का मतलब नहीं’
  • ‘हम कैसे मानें EVM में गड़बड़ी नहीं हो सकती?’
  • ‘कई देशों ने EVM को बैन कर दिया है’
  • ‘EVM पर सवाल उठे तो जवाब ढूंढना चाहिए’
  • पंजाब में आप का 20-25 प्रतिशत वोट अकाली बीजेपी को दिया गया.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *