Breaking News

अमेरिका और जापान से भारत की दोस्ती पर चीन ने दी चेतावनी

पेइचिंग। चीन ने भारत को हिदायत दी है कि वह उसे रोकने के लिए अमेरिका और जापान के \’जाल\’ में न फंसे। चीन के आधिकारिक मीडिया ने भारत को चेताते हुए कहा कि इस तरह का कदम खुद नई दिल्ली के लिए रिस्की साबित हो सकता है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में कहा गया, ‘हिंद महासागर में चीन को रोकने के लिए वॉशिंगटन को उम्मीद है कि वह नई दिल्ली का इस्तेमाल कर सकेगा। दूसरी तरफ तोक्यो पैसिफिक ओसिअन में चीन को काउंटर करने के लिए भारत को साथ लेने की कोशिश में है।’

ग्लोबल टाइम्स ने लिखा, ‘भारत के लिहाज से देखें तो यह उसके लिए रणनीतिक अवसर की तरह दिखते हैं, लेकिन यह अमेरिका और जापान के ट्रैप से ज्यादा कुछ नहीं है। यदि भारत एक बार इनके जाल में फंस गया तो उसके सामने से कई अवसर खत्म हो जाएंगे और खतरे अधिक बढ़ जाएंगे।’ ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक, ‘भारत को खुद को बड़ी शक्ति के तौर पर देखता है, लेकिन अपनी सुरक्षा के लिए यदि वह बाहरी ताकतों पर निर्भर करता है तो यह बहुत अच्छी स्थिति नहीं होगी। विकास की राह पर चलने के लिए भारत के पास सबसे बेहतर विकल्प यह है कि वह अपने पड़ोसियों के प्रति उदार रवैया अपनाए और सिल्क रोड जैसे क्षेत्रीय विकास कार्यक्रमों का हिस्सा बने।’

Loading...

ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक एशिया प्रशांत में अमेरिका अपने सुरक्षा बलों की मौजूदगी से अनिश्चितता का माहौल पैदा कर रहा है। हालांकि इससे चीन के उभार को रोका नहीं जा सकता है। अखबार ने भारत से सहयोग की अपेक्षा करते हुए लिखा, ‘भारत और चीन के पास क्षमता है कि वह एशिया प्रशांत क्षेत्र की सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकते हैं।’ अमेरिका और भारत के विदेश मंत्रालयों के बीच रक्षा और सुरक्षा के मसलों पर बनी सहमति का उल्लेख करते हुए कहा कि लगता है भारत चीन से दूरी बनाने को लेकर बहुत उत्साहित है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *