Thursday , June 24 2021
Breaking News

अकेला चना भाड़ फोड़ सकता है? : सरकार में अपने रोल पर सिद्धू का कैप्टन पर निशाना

चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह अब राज्य में मुख्यमंत्री की कुर्सी भी संभालने वाले हैं. विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत के बाद मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर फैसला राहुल गांधी ही करेंगे. बता दें कि चुनाव से कुछ महीने पहले नवजोत सिंह सिद्धू, बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए थे. सरकार बनने के बाद सिद्धू का क्या रोल होगा इस सवाल पर कैप्टन सिंह ने कहा ‘अंदाजे मत लगाइए, सिद्धू पर टिप्पणी नहीं कर सकता. राहुल गांधी से मिलने के बाद बात साफ होगी.’

विधानसभा चुनाव 2017 में पंजाब में कांग्रेस ने 117 में से 77 सीटों पर कब्ज़ा जमाया. यह पार्टी दस साल बाद इस राज्य में सत्ता में आई है. सत्ताधारी अकाली-बीजेपी गठबंधन को मात्र 18 सीटें ही हासिल हुईं. वहीं आम आदमी पार्टी जिसके जीतने का काफी संभावनाएं जताई जा रही थीं, वह दूसरे नंबर पर रही.

दिलचस्प बात यह है कि नतीजों के दिन 11 मार्च यानि शनिवार के ही दिन कैप्टन अमरिंदर सिंह का जन्मदिन भी था. कैप्टन ने कहा कि जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी उनके पास फोन आया. उन्होंने कहा ‘मुझे पीएम मोदी से कभी कोई दिक्कत नहीं हुई. उन्होंने कहा था कि पंजाब के लिए आपको जो भी चाहिए, हम खुशी से मदद करेंगे.’

Loading...

राज्य में नशे की समस्या पर बात करते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने इस मामले से निपटने के लिए योजना तैयार कर ली है. चुनाव के दौरान यह मुद्दा काफी उठा था और सत्ताधारी बादल परिवार पर आरोप लगाया गया था कि उनके संबंध ड्रग माफिया से हैं. कैप्टन सिंह ने कहा कि उनकी सरकार की प्राथमिकता इस मामले से निपटने की है. याद दिला दें कि यह समस्या पिछले साल की फिल्म ‘उड़ता पंजाब’ में भी दिखाई गई थी. कैप्टन सिंह ने कहा ‘हम नशे के मामले से निपटने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स का गठन कर रहे हैं. जो लोग इसमें शामिल हैं उन्हें सज़ा दी जाएगी. हम चिट्टा (हेरोइन) का सफाया करेंगे. उसने सबकी जान ली है.’

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *