Thursday , June 24 2021
Breaking News

मोदी की आहट डरे उत्तरप्रदेश के भ्रष्ट अधिकारी, छुट्टी के दिन पंचम तल से लेकर सचिवालय तक खुला रहा, बीजेपी कराएगी सपा के कारनामों की जाँच

लखनऊ। यूपी में सत्ता की चाबी बीजेपी के हाथ में जाता देख समाजवादी पार्टी में सीएम अखिलेश के करीबी रहे प्रशासनिक सेवा के अफसरों में हड़कंप मच गया है. जिसके चलते पिछली सरकार में मुख्यमंत्री के करीबी माने जाने वाले अफसरों ने अपने बचाव को लेकर शनिवार को पंचम तल से लेकर सचिवालय तक पर सुबह से ही हाजरी लगाने पहुंचे. और तो और सपा सरकार के सबसे खास समझे जाने वाले आईएएस अफसर नवनीत सहगल से लेकर कई अन्य बड़े अफसर सीएम अखिलेश के घर पर सुबह से ही हाजरी बजाते दिखे. बताया जाता है कि पिछली सरकार के आधे अधूरे पड़े कार्यों को निपटाने और नियमों को ताक पर रखकर किये गए आदेशों से संबंधित फाइलों को नष्ट करते रहे.

सूत्रों के मुताबिक जैसे ही विधानसभा चुनाव कि मतगणना शुरू हुई और यूपी की 403 सीटों में से बीजेपी 300 सीटों पर बढत लेते हुए दिखी. प्रशासनिक सेवा के अफसरों में हड़कंप मच गया. बताया जाता है कि शनिवार को बंद रहने वाला एनेक्सी भवन से लेकर सचिवालय तक खुले रखे जाने के आदेश जारी कर दिए गए. यही नहीं अखिलेश सरकार के अधूरे कार्यों को पूरा किये जाने के लिए बैक डेटिंग भी फाइलों पर की जाती रही. इतना ही नहीं नयी सरकार से गड़बड़ घोटालों को छिपाये जाने के लिए कई बड़े आईएएस अफसर पुराने आदेशों को फाइलों से फड़वाते दिखे.

सुबह 8 बजे से ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आवास पर पंचम तल से लेकर सचिवालय में बैठने वाले अफसरों का तांता लगा रहा. बताया जाता है कि अखिलेश के सबसे खास कहे जाने वाले आईएएस अफसर नवनीत सहगल सुबह ही सीएम बंगले पर पहुँच गए. तकरीबन एक घंटे बाद वह यहाँ से निकल कर सीधे पंचम तल पहुंचे. मालूम हो कि अखिलेश के समस्त महत्वपूर्ण मलाईदार विभागों का काम सहगल ही देख रहे थे. इसके अलावा यमुना एक्सप्रेसवे से लेकर सपा सरकार की सभी महत्वपूर्ण योजनाओं का काम उनके पास ही था.यही नहीं अखिलेश के सबसे करीबी अफसरों में उनकी गिनती की जाती है.

Loading...

इसके अलावा सीएम के बंगले पर आज सुबह हाजरी लगाने पहुंचे अफसरों में सहगल के अतिरिक्त कुंवर फ़तेह बहादुर, गृहसचिव देवाशीष पांडेय समेत  वित्त विभाग के कई बड़े अफसर और कर्मचारी थे. यही नहीं मुख्य सचिव राहुल भटनागर भी आज छुट्टी के दिन अपने कार्यालय में बैठकर आधे अधूरे पड़े कामों को निपटाते रहे. दूसरी तरफ बीजेपी की जीत का रास्ता साफ होते देख सीएम अखिलेश सरकार के कार्यकाल में हुए गड़बड़ झाला कार्यों की फाइलों को नष्ट करने का काम सुबह से ही चलता रहा.

बहरहाल सूबे में बीजेपी की नयी सरकार बनते देख कई अफसरों की रातों किम नींद उड़ती दिखाई दे रही है. इसलिए वह अपने को पाक-साफ करने के लिए पूर्व सरकार में किये गए उलटे सीधे कामों से अपने आपको बचने के लिए संबंधित फाइलों को नष्ट करने में व्यस्त दिखे. बीजेपी के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता आईपी सिंह ने ‘इंडिया संवाद’ से बात करते हुए कहा है कि सत्ता में बैठते ही बीजेपी सपा सरकार के कारनामों की जाँच कराएगी. इसके साथ ही यमुना एक्सप्रेस वे में हुए घोटाले में पाए जाने वाले दोषी अफसरों को जेल भेजवाने में उनकी पार्टी कोई कसर बाकि नहीं रखेगी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *