Wednesday , December 2 2020
Breaking News

स्टॉक मार्केट ने गंवाई मोदी के दौर में मिली सारी बढ़त, टॉप से 22% टूटा सेंसेक्स

sensex2नई दिल्ली। स्टॉक मार्केट ने मोदी राज में मिली सारी बढ़त गंवा दी है। चार मार्च 2015 को सेंसेक्स के 30 हजार का स्तर छूने के बाद से अब तक यह 22 फीसदी टूट चुका है। इस गिरावट के कारणों में बड़े रिफॉर्म्स का नहीं होना और बैंकिंग सेक्टर को लेकर बढ़ती चिंताएं प्रमुख हैं। इसके बावजूद लॉन्ग टर्म के लिए इन्वेस्टर्स मौजूदा समय में अच्छे स्टॉक्स खरीदकर अपने पोर्टफोलियो में शामिल कर सकते हैं।
मार्केट ने गंवाई सारी बढ़त
23 सितंबर 2013 को नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार घोषित होने के बाद से 26 मई 2014 तक सेंसेक्स 4400 अंक चढ़ गया था, यानी 22 फीसदी की बड़ी तेजी देखने को मिली थी। लेकिन उम्मीदों की हवा गायब होने के बाद और रिफॉर्म्स पर सरकार के खरे नहीं उतरने से सेंसेक्स 26 मई 2014 से अब तक (11 फरवरी 2016) 7 फीसदी लुढ़क गया है।
निवेशकों के डूबे 19 लाख 96 हजार करोड़ रुपए
मोदी राज में विदेशी इन्वेस्टर्स को बड़े रिफॉर्म्स की उम्मीद थी। इसके चलते इन्वेस्टर्स ने जमकर खरीददारी की थी, लेकिन मार्च 2015 को 30000 का स्तर छूने के बाद सेंसेक्स 23000 के नीचे आ गया है। इस दौरान सेंसेक्स की मार्केट कैप बढ़कर 106 लाख 27 हजार करोड़ रुपए के पार पहुंच गई थी। इस गिरावट में 11 फरवरी 2016 को मार्केट कैप गिरकर 86 लाख 30 हजार करोड़ रुपए आ गई है। इस दौरान इन्वेस्टर्स के 19.96 लाख करोड़ रुपए डूब चुके हैं।
क्यों आई गिरावट
क्रिस रिसर्च के सीईओ अरुण केजरीवाल के अनुसार, मोदी सरकार से मार्केट को काफी उम्मीदें थीं। लेकिन बड़े रिफॉर्म्स जैसे जीएसटी, भूमि अधिग्रहण आदि का पास नहीं होना मार्केट के लिए सबसे बड़ी चिंता बन गई है। इसीलिए एफआईआई मार्केट से दूर हो रहे हैं। हालांकि, इन्वेस्टर्स के लिए मौजूदा समय में इन्वेस्ट का अच्छा मौका है, क्योंकि कई स्टॉक्स अच्छे वैल्युएशन पर आ गए है।
अब क्या करें इन्वेस्टर्स
बोनांजा पोर्टफोलियो के एवीपी पुनीत किनरा के मुताबिक, इस समय बाजार में बैंकिंग सेक्टर को लेकर चिंताएं बनी हुई हैं। अगर निवेश करना है तो अभी पीएसयू बैंकों में निवेश से दूर रहना चाहिए। हालांकि, प्राइवेट बैंकों में धीरे-धीरे निवेश कर सकते हैं। रिटेल फोकस, इंडिविजुअल कारोबार वाले बैंकों में निवेश किया जा सकता है। अगर निवेश करना है तो निजी बैंकों में निवेश की सलाह है, लेकिन उनमें भी व्यवस्थित रूप से निवेश करें। यह समय खास सेक्टरों में निवेश करने का नहीं है, बल्कि सेक्टर में खास शेयरों को चुनने का है। इस समय भी फार्मा, आईटी ऑटो सेक्टर अच्‍छी हालत में हैं। हालांकि इन सेक्टर्स के अच्छे शेयर ही चुनने चाहिए, जिनके फंडामेंटल्स अच्छे हों।
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *