Breaking News

जवान की मौत: आर्मी ने स्टिंग पर उठाए सवाल, कहा पछतावे में की आत्महत्या

नई दिल्ली। सेना ने कैंप में मृत पाए गए सेना के ‘सहायक’ सिस्टम का खुलासा करने वाले जवान लांस नायक रॉय मैथ्यू की मौत का ठीकरा स्टिंग ऑपरेशन पर फोड़ते हुए कहा है कि उसने सीनियर्स को बदनाम करने के पछतावे की वजह से ऐसा कदम उठाया। सेना ने कहा, ‘जांच में खुलासा हुआ है कि सुइसाइड की वजह मीडिया द्वारा विडियोग्राफी के बाद हुआ लगातार घटनाक्रम ही है। इसमें उनसे सहायक के तौर पर की जाने वाली ड्यूटी के बारे में उनकी जानकारी के बिना इस तरह के सवाल पूछे गए थे, जिनका मनमाफिक जवाब मिले। पछतावा होने के बाद उसने यह कदम उठाया होगा।’

सेना ने विडियो पर कहा, ‘विडियो क्लिप में आर्मी अधिकारियों की पहचान उजागर नहीं हो सकी है। इसलिए जांच का आदेश देने का कोई सवाल ही नहीं है।’ 33 वर्षीय मैथ्यू सेना में गनर थे। उन्हें नासिक के देवलाली कैम्प के एक कमरे में लटका हुआ पाया गया।

सेना ने कहा है कि इस मामले में लोकल पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। सेना के अधिकारियों ने इन्क्वायरी का आदेश दिया है, ताकि उन हालात की जांच की जा सके, जिनके कारण मौत हुई। सेना ने रॉय के परिवार औऱ नागरिक प्रशासन को हर संभव सहायता मुहैया कराने की बात कही है।

Its likely that guilt of letting down superiors/conveying false impression to unknown individual, led to extreme step: Army on Roy Mathew pic.twitter.com/ylrttRUOz0

परिजनों ने की जांच की मांग
केरल के कोल्लम निवासी 33 वर्षीय मैथ्यू सेना में गनर थे। उन्हें शुक्रवार को कैम्प के एक कमरे में लटका हुआ पाया गया। परिजनों ने मृतक की मौत के मामले में जांच की मांग की है। उनकी पत्नी फिनी रॉय ने कहा, ‘मैथ्यू ने फोन पर कहा था कि टीवी चैनल उनके विजुअल्स चला रहे हैं। वह रो रहे थे। मुझे जानना है कि उनके साथ क्या हुआ।’

View image on Twitter

Loading...
View image on Twitter

He (Roy) called & said channels are playing my visuals & was crying;want to know what happened to him: Fini Roy, wife of soldier Roy Mathew

सैनिक के पिता ने कहा, ‘हमारे पास पैसा और राजनीतिक प्रभाव नहीं है और कोई सहायता करने वाला भी नहीं है। मुझे जानना है कि बेटे के साथ क्या हुआ, उसकी मौत कैसे हुई।’

क्या है मामला
गौरतलब है कि मैथ्यू ने एक विडियो में सेना के अफसरों द्वारा सहायकों का शोषण किए जाने का खुलासा किया था। विडियो में जवानों को सीनियर्स के कुत्तों को टहलाते, कपड़े धोते और बच्चों को स्कूल ले जाते दिखाया गया था। इस विडियो के आने के बाद सेना में ब्रिटिश काल से चल रही ‘सहायक व्यवस्था’ की कड़ी आलोचना की गई थी। मैथ्यू 25 फरवरी से ही अपनी आर्टिलरी यूनिट से गायब था और स्टिंग ऑपरेशन आने के बाद उसके ऊपर सेना की आंतरिक जांच चल रही थी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *