Saturday , March 6 2021
Breaking News

तमिलनाडु: शशिकला समर्थक 130 विधायकों को होटल ले जाया गया

चेन्नै। तमिलनाडु की राजनीति में चल रही उठापटक के बीच सत्ताधारी एआईएडीएमके पार्टी अब दो धड़ों में बट गई है। पन्नीरसेल्वम की मंगलवार को शशिकला से बगावत के बाद बुधवार को शशिकला खेमे के 130 पार्टी विधायकों को चेन्नै के एक होटल में ले जाया गया है। गवर्नर के लौटने तक इन विधायकों को एक तरह से शशिकला के ‘कब्जे’ में रखने के लिए यह कदम उठाया गया है।

विधायक इस बात का इंतजार कर रहे हैं कि राज्यपाल आधिकारिक रूप से शशिकला को न्योता दें। अगर ऐसा नहीं होता है तो पार्टी ने राष्ट्रपति से मिल मामले में हस्तक्षेप की मांग की भी तैयारी की है। ये विधायक पन्नीरसेल्वम को अपना समर्थन न दे दें इसलिए उन्हें होटल में ले जाया गया। बुधवार को एआईएडीएमके मुख्यालय में पार्टी महासचिव शशिकला ने विधायकों की बैठक की थी, जिसके तुरंत बाद ही उनका समर्थन कर रहे विधायकों को बस में बिठा कर भेजा गया।

130 MLAs(Sasikala supporters) being taken in a bus to a Hotel: Sources

Loading...

इस बैठक में शशिकला ने पन्नीरसेल्वम पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि वह पन्नीरसेल्वम को सजा देंगी। उन्होंने कहा कि विरोधी उनके पीछे पड़े हैं, लेकिन उनकी कोई भी कोशिश उन्हें अम्मा के रास्ते पर चलने से नहीं रोक सकती। पन्नीरसेल्वम को पद से हटाने पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि सीएम ने जो गलतियां कीं, उसकी सजा देना बतौर पार्टी महासचिव उनकी जिम्मेदारी है। शशिकला के मुताबिक, पन्नीरसेल्वम ने उस पार्टी से नजदीकी बढ़ा ली, जिसका जयललिता ने पूरी जिंदगी मुकाबला किया।

समर्थकों को संबोधित करते हुए शशिकला ने कहा, ‘अम्मा (जयललिता) की मौत के बाद मेरे समर्थकों ने मुझे जिम्मेदारी संभालने के लिए कहा था। मैं ऐसा नहीं कर सकी क्योंकि उस वक्त मैं दुखी थी।’ शशिकला ने आरोप लगाया कि सीएम विपक्ष के साथ मिलकर साजिश रच रहे हैं।

शशिकला पहले भी यह आरोप लगा चुकी हैं कि पन्नीरसेल्वम ने डीएमके के साथ मिलकर साजिश रची। उन्होंने डीएमके लीडर को देखकर पन्नीरसेल्वम के मुस्कुराने पर भी सवाल उठाए। डीएमके ने शशिकला पर जवाबी हमला करते हुए कहा कि जयललिता भी विपक्ष के नेताओं को देखकर सदन में मुस्कुराती थीं। क्या शशिकला ने उनपर भी सवाल उठाए थे?

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *