Breaking News

झूठ क्‍यों बोला ? बेटे के विवाद में फंसे आजम खान, चौपट हो सकता है पॉलिटिकल करियर

लखनऊ। अकसर अपने विवादित बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और यूपी के कैबिनेट मंत्री आजम खान एक बार फिर विपक्ष के निशाने पर हैं। इस बार उनके सिर पर बेटा बम फूटा है। वो अपने बेटे अब्‍दुल्‍ला खान की वजह से सुर्खियों में आ गए हैं। आजम खान का बेटा अब्‍दुल्‍ला खान रामपुर की स्‍वार सीट से समाजवादी पार्टी का उम्‍मीदवार है। लेकिन, यूपी विधानसभा चुनाव से पहले से ही वो विवादों में घिर गया है। बीजेपी ने आजम खान के बेटे पर चुनाव आयोग से झूठ बोलने का आरोप लगाया है। विवाद अब्‍दुल्‍ला की उम्र को लेकर है। आरोप लगाया जा रहा है कि उसकी उम्र अभी 25 साल से कम है। लेकिन, फर्जी कागजात के जरिए उसने अपनी उम्र 25 बरस दिखाई है।

कुछ दिनों पहले बहुजन समाज पार्टी के नेता नवाब कजीम ने भी ये आरोप लगाया था कि समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान का बेटा अब्‍दुल्‍ला खान 25 साल का नहीं है। वो चुनाव नहीं लड़ सकता है। भारतीय जनता पार्टी इसी शिकायत को लेकर चुनाव आयोग के पास पहुंच गई है। बीजेपी ने रामपुर के स्वार सीट से समाजवादी पार्टी के उम्‍मीदवार अब्दुल्ला खान की उम्मीदवारी को रद्द करने की मांग की है। इस संबंध में बीजेपी ने अाजम खान के बेटे की उम्र को लेकर मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त को एक खत भी लिखा है। इस खत के साथ कुछ सबूत भी पेश किए गए हैं। जिसमें दावा किया जा रहा है कि अब्‍दुल्‍ला खान की उम्र 25 साल से कम है। मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त को भेजे गए इस खत पर बीजेपी के उपाध्‍यक्ष जेपीएस राठौर और महासचिव विजय बहादुर पाठक के हस्‍ताक्षर हैं।

बीजेपी ने चुनाव आयोग से रिटर्निंग अफसर की भी शिकायत की है। बीजेपी का आरोप है कि रिटर्निंग अफसर ने इस मामले में भेदभाव किया है। आजम खान के बेटे अब्‍दुल्‍ला खान के नामांकन पत्र में कई गड़बड़ियां थीं। लेकिन, सभी को नजरअंदाज कर दिया गया। बीजेपी ने अब्‍दुल्‍ला खान के साथ-साथ रिटर्निंग अफसर के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है। मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त को लिखे खत में बीजेपी ने दावा किया है कि अब्‍दुल्‍ला ने इनकम के कॉलम को खाली छोड़ दिया है। पार्टी के नाम के कॉलम में भी सिर्फ समाजवादी ही लिखा गया है। बीजेपी का कहना है कि अब्‍दुल्‍ला ने ये भी नहीं बताया कि उसने किस साल से और कहां से अपनी शैक्षिक डिग्रियां हासिल की। यानी अब अब्‍दुल्‍ला की उम्र को लेकर बवाल बढ़ गया है।

Loading...

इससे पहले सोमवार को ही बीएसपी नेता नवाब कजीम अली खान ने रामपुर के रिटर्निंग अफसर से शिकायत की थी कि अब्दुल्ला खान की उम्र कम है। नवाज कजीम अली खान की शिकायत पर अब्‍दुल्‍ला के वकील का कहना था उन्‍होंने रिटर्निंग अफसर के सामने नगर निगम द्वारा  जारी किया गया जन्‍म प्रमाण पत्र दिखाया गया। इतना ही नहीं आधार कार्ड भी पेश किया। जबकि नवाब कजीम का कहना है अब्‍दुल्‍ला खान ने एमटेक की डिग्री हासिल की है। फिर उसने जन्‍मतिथि के वेरीफिकेशन के लिए दसवीं की मार्कशीट को क्‍यों नहीं पेश किया। उधर, रामपुर जिले के स्वार-टांडा के एसडीएम और रिटर्निंग अफसर गजेंद्र सिंह का कहना है कि मैं कोई जांच अधिकारी नहीं हूं। सबूतों के आधार पर ही फैसला सपा उम्‍मीदवार के पक्ष में सुनाया गया है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *