Breaking News

आयकर विभाग ने AAP के चंदे के ऑडिट में गड़बड़ियां पकड़ीं

नई दिल्ली। आयकर विभाग ने यह दावा किया है कि आम आदमी पार्टी (आप) ने राजनीतिक चंदे को लेकर जो ऑडिट रिपोर्ट पेश की है उसमें करीब 27 करोड़ रुपये के बारे में गलत जानकारी दी गई है। विभाग ने चुनाव आयोग को सौंपी रिपोर्ट में कहा कि साल 2013-14 और 2014-15 में मिले चंदे को लेकर तैयार की गई रिपोर्ट में ‘तथ्यात्मक अंतर’ है। यह रिकॉर्ड विभिन्न दानदाताओं से मिले दान से मेल नहीं खाते। विभाग एक साल से विभिन्न पार्टियों को मिले चंदे की जांच कर रहा है।

आप ने अपने चार्टर्ड अकाउंटेंट के साथ मिलकर यह रिपोर्ट तैयार की है और कानून के तहत इसकी एक कॉपी आयकर विभाग को सौंपी है। विभाग के अधिकारियों ने कहा कि चंदे के रिकॉर्ड में 27 करोड़ का अंतर दिख रहा है और पार्टी के कोषाध्यक्ष ‘कुछ त्रुटि’ होने की बात मानी है।

अधिकारी का कहना है कि आईटी की रिपोर्ट के मुताबिक, यह राजनीतिक चंदों से जुड़े टैक्स लॉ का उल्लंघन है। उन्होंने बताया कि इस आधार पर आप को आईटी ऐक्ट के तहत कर में मिली छूट वापस ली जा सकती है और साथ ही पार्टी का पंजीयन रद्द कराया जा सकता है, लेकिन यह फैसला लेने का अधिकार चुनाव आयोग के पास है।

इधर, मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए दिल्ली के CM और पार्टी के कन्वीनर अरविंद केजरीवाल ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘गंदी चाल’ करार दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मोदीजी की गंदी चाल । गोवा और पंजाब में बुरी तरह हारने जा रहे लोग चुनाव से महज 24 घंटे पहले जीतने वाली पार्टी का पंजीकरण रद्द करवाने की कोशिश करते हैं।’

Loading...

Modiji’s dirty tricks. Losing badly in Goa n Punjab, he tries to de-register the winning party 24 hrs before elections. Shameless dictator https://twitter.com/aapinnews/status/827361904385368064 

बता दें कि आप पंजाब के अलावा गोवा में भी चुनाव लड़ रही है। पंजाब में जहां आप, एसएडी-बीजेपी, कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है, वहीं गोवा में आप सत्तारूढ़ बीजेपी को चुनौती दे रही है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *