Thursday , November 26 2020
Breaking News

भारतीय नेताओं ने सुशील कोइराल को नेपाल जाकर दी श्रद्धांजलि

Sushil-Koiralaकाठमांडू। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को सर्वदलीय शिष्टमंडल के साथ नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री सुशील कोइराला को श्रद्धांजलि दी और कहा कि भारत ने एक ‘सच्चा दोस्त’ खो दिया है। कोइराला का मंगलवार तड़के निधन हो गया था।

भारतीय शिष्टमंडल में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, जेडी (यू) अध्यक्ष शरद यादव, सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शामिल थे।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी बड़े राजनीतिक दलों से संपर्क किया ताकि यह युनिश्चित किया जा सके कि शिष्टमंडल में विपक्ष के नेता भी शामिल हों।

शिष्टमंडल ने काठमांडू पहुंचने के बाद दशरथ रंगशाला स्टेडियम में कोइराला को श्रद्धांजलि दी। नेताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की।

Loading...

कोइराला को श्रद्धांजलि देने के बाद सुषमा ने नेपाली कांग्रेस के नेताओं राम चंद्र पौडेल और कृष्ण प्रसाद सितौला से मुलाकात की। सुषमा ने शिष्टमंडल के साथ नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली और राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी से भी मुलाकात की। मुलाकात के दौरान ओली ने कहा, ‘भारत दुख की घड़ी में हमेशा नेपाल के साथ खड़ा रहता है।’ भारत-नेपाल संबंधों को ‘बहुत गहरा और करीबी’ करार देते हुए विद्या भंडारी ने कहा कि यह ‘राजनीति से परे’ है।

सुषमा ने नेपाली राष्ट्रपति से कहा, ‘भारत अपनी जनता, सरकार और सभी बड़े राजनीतिक दलों की तरफ से संवेदना प्रकट करता है।’

सुशील कोईराला 11 फरवरी 2014 से 10 अक्टूबर 2015 तक नेपाल के प्रधानमंत्री रहे। पदभार संभालने के बाद कोइराला के सामने यह बड़ा लक्ष्य था कि नेपाल में स्थिरता लाने के लिए संविधान तैयार किया जाए। बीते साल जो नया संविधान सामने आया उसमें कोइराला की महत्वपूर्ण भूमिका थी।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *